चोर ने उगला राज, पकड़ी गई गैंग की शातिर महिला, 4 शातिर चोर गिरफ्तार

कांकेर : चोर तो बहुत देखे होंगे लेकिन आज आपको ऐसे चोर से मिलवाने जा रहे हैं की जिन्होंने चोरी के बाद ना पकड़े जाने के लिए फाइनेंस कंपनी का सहारा लिया। चोरी के गहनों को ये चोर गिरवी रखकर पैसा लेकर आपस में बांट लेते। जिससे पुलिस को कानों कान खबर नहीं होती। ये मामला कांकेर से सामने आया है। जिसमें पुलिस ने आरोपियों को गिरफ्तार कर जेल भेज दिया है। आरोपियों में एक नाबालिग भी शामिल है।

SP शलभ सिन्हा ने इस मामले का खुलासा करते हुए बताया कि ”2021 सितंबर में सिविल लाइन निवासी जूही सोनी ने रिपोर्ट लिखाई था कि उनके सूने मकान में अज्ञात चोरों ने सोने चांदी के जेवरात चोरी कर लिए है। वहीं 2022 के ही अप्रेल माह में शारदा ज्वेलर्स के संचालक विजय सोनी ने भी सोने-चांदी के ज्वेलरी चोरी की रिपोर्ट दर्ज कराई थी।” पुलिस को जानकारी मिली कि कांकेर के एमजी वार्ड निवासी भरत साहू सोना बेचने ग्राहक तलाश कर रहा है।

फिर पुलिस ने भरत साहू को हिरासत में लेकर पूछताछ शुरू की। फिर उसने बताया कि ”वह अपने साथी महेश यादव एमजी वार्ड कांकेर के साथ भिलाई काम करने के लिए गया हुआ था। भिलाई उसकी पहचान रवि गुप्ता नाम के व्यक्ति से हुई ही। रवि गुप्ता आदतन चोर है। रेलवे स्टेशन भिलाई में होटल चलाता है। फिर उसके साथ रहने वाली महिला इंद्राणी टंडन के साथ सभी ने कांकेर में चोरी करने की योजना बनाई।

4 आरोपी एक साथ कांकेर आए और भरत साहू के घर में रुके। फिर कांकेर निवासी एक नाबालिग के साथ मिलकर चोरी की। इस मामले में आरोपी रवि गुप्ता और इंद्राणी बंजारे चोरी की घटना को अंजाम देने के बाद वापस भिलाई चले गए थे। फिर उन्होंने सोने के हार को मन्नापुरम गोल्ड लोन फाइनेंस कंपनी से गोल्ड मॉर्गेज लोन एक लाख दस हजार रुपए का फाइनेंस करा लिया। जिसके बाद मिली रकम को आपस में बंटवारा कर लिया। आरोपी इंद्राणी ने पुलिस को चोरी की ज्वेलरी पायल मनीष सोनी ज्वेलर्स पावर हाउस भिलाई को बेचना बताया है। जिसकी पुलिस तलाश कर रही है।

Advertisement

ताज़ा खबरे

Video News

NEWS

error: \"छत्तीसगढ़ 24 न्यूज़\" के कंटेंट को कॉपी करना अपराध है।