केंद्रीय कर्मचारी के लिए खुसखबरी.. फिर बढ़ेगा महंगाई भत्ता (DA)

नई दिल्ली : केंद्र सरकार 1 करोड़ से ज्यादा कर्मचारियों और पेंशनभोगियों को खुशखबरी दे सकती है। केंद्र सरकार महंगाई भत्ते (DA) को 3 फीसदी से बढ़ाकर 45 प्रतिशत कर सकती है। इस समय महंगाई भत्ता (DA) 42 प्रतिशत है। कर्मचारियों और पेंशनभोगियों के लिए महंगाई भत्ता (DA) हर महीने श्रम ब्यूरो (labor bureau) द्वारा जारी किए जाने वाले औद्योगिक श्रमिकों के उपभोक्ता मूल्य सूचकांक (सीपीआई-आईडब्ल्यू) के आधार पर तय किया जाता है।



श्रम ब्यूरो, श्रम मंत्रालय की एक शाखा है। ऑल इंडिया रेलवेमेन फेडरेशन के महासचिव शिव गोपाल मिश्रा ने समाचार एजेंसी पीटीआई-भाषा से कहा, ‘जून 2023 के लिए सीपीआई-आईडब्ल्यू 31 जुलाई, 2023 को जारी किया था। हम महंगाई भत्ते में चार प्रतिशत बढ़ोतरी की मांग कर रहे हैं। लेकिन सरकार महंगाई भत्ते में तीन प्रतिशत की बढ़ोतरी कर सकती है। जिसके 45 प्रतिशत होने की संभावना है।



उन्होंने बताया कि वित्त मंत्रालय (Finance Ministry) का व्यय विभाग अपने राजस्व निहितार्थ के साथ महंगाई भत्ता (DA) में बढ़ोतरी का प्रस्ताव तैयार करेगा। फिर प्रस्ताव को मंजूरी के लिए केंद्रीय मंत्रिमंडल के समक्ष रखेगा। महंगाई भत्ता (DA) बढ़ोतरी १ जुलाई 2023 से प्रभावी होगी। केंद्र सरकार के 1 करोड़ से ज्यादा कर्मचारियों और पेंशनभोगियों को 42 फीसदी महंगाई भत्ता मिल रहा है।



महंगाई भत्ता (DA) में आखिरी संशोधन 24 मार्च 2023 को किया गया था और यह 1 जनवरी 2023 से प्रभावी हुआ था। क्या है महंगाई भत्ता केंद्रीय कर्मचारियों को महंगाई से राहत देने और उनके जीवन स्तर को बेहतर बनाने के लिए सरकार द्वारा महंगाई भत्ता दिया जाता है। जैसे-जैसे महंगाई बढ़ती है कर्मचारियों का महंगाई भत्ता (DA) भी बढ़या जाता है। महंगाई भत्ता (DA) का कैलकुलेशन देश की मौजूदा महंगाई के अनुसार हर 6 महीने पर किया जाता है. महंगाई भत्ता सरकारी कर्मचारियों, पब्लिक सेक्टर के कर्मचारियों और पेंशनधारकों को दिया जाता है।

Advertisement

ताज़ा खबरे

Video News

NEWS

error: \"छत्तीसगढ़ 24 न्यूज़\" के कंटेंट को कॉपी करना अपराध है।