एस ई सी एल, एरिया हेडक्वार्टर जी एम कम्पलेक्स ऑफिस में चल रहा कमीशन का खेल

एमसीबी : चिरमिरी एसईसीएल माइंस कोल इंडिया का एक अंग है सूत्रों की माने तो यहां पर करोड़ों की हेरा फेरी कर मेंटेनेंस के नाम पर मनचाहे ठेकेदारों को बिल भुगतान किया जा रहा है यदि बात करें हम मेंटेनेंस की तो मेंटेनेंस के नाम पर सिर्फ लीपा पोती का कार्य किया जा रहा है कहीं-कहीं तो सिर्फ ठेकेदार को कागजों पर ही कार्य पूरा कर कार्यों का पूर्ण भुगतान नियम विरुद्ध कर दिया जा रहा है।

मेंटेनेंस के नाम पर श्रमिकों के मकान पर थोड़ा बहुत बाहरी रंग रोगन कर पुराने मकान को बाहर से बेहतर दिखाकर अंदर अंदर के टूट-फूट को जिओ का तयों छोड़ दिया जाता है और कागजों में संपूर्ण कार्य दर्शाकर बिल का भुगतान कर दिया जाता है जिसे कहीं ना कहीं अधिकारियों की कमीशन खोरी नजर आती है जिससे यहां के प्रबंधक या उप प्रबंधक नजर अंदाज कर रहे हैं जिस कारण से अधिकारियों की इस कदर कमीशन खोरी बढ़ गई है कि वह कार्यों की अनदेखी कर बिल का भुगतान धड़ले से नियम के विरुद्ध कर जा रहे हैं।

यदि इस पर उच्च अधिकारियों की नियम पूर्वक जांच की जाए तो कई अधिकारी ऐसे हैं जो जांच के दायरे में नजर आ जाएंगे । चाहे वह सिविल से जुड़ा हुआ कार्य हो या गार्बेज से जुड़ा हुआ या इलेक्ट्रिक या प्लंबर से जुड़ा हुआ कोई भी कार्य सहित तौर से मेंटेनेंस के लिए कार्य में नहीं लिया जा रहा है जिससे श्रमिकों का भवन जर्जर से भी जर्जर की स्थिति की ओर बढ़ता जा रहा है यदि इस पर जी एम या सीएमडी आधिकारिक तौर पर जांच करें तो कई ऐसी खामियां उनके सामने नजर आ जाएगी आगे और भी खुला से समय-समय पर होंगे

Chhattisgarh24News.Com के व्हाट्सएप चैनल को फॉलो करना न भूलें 👇

 https://whatsapp.com/channel/0029Va4mCdjL7UVLuM2mkj0Q 
ताज़ा खबरे

Video News

NEWS

error: \"छत्तीसगढ़ 24 न्यूज़\" के कंटेंट को कॉपी करना अपराध है।