साप्ताहिक समय सीमा की बैठक सम्पन्न, किसानों को धान खरीदी के दौरान न हो कोई असुविधा

साप्ताहिक समय सीमा की बैठक सम्पन्न, किसानों को धान खरीदी के दौरान न हो कोई असुविधा

एमसीबी कलेक्टर नरेन्द्र कुमार दुग्गा के निर्देश पर आज अपर कलेक्टर अनिल सिदार की अध्यक्षता में बुधवार को कलेक्ट्रेट सभाकक्ष में साप्ताहिक समय सीमा की बैठक आयोजित की गई। बैठक में अपर कलेक्टर श्री सिदार ने कहा कि मुख्यमंत्री भेंट-मुलाकात में की गई घोषणा और जन चौपाल में प्राप्त लम्बित आवेदनों का त्वरित निराकरण करें। शासन की महत्वाकांक्षी योजना रीपा गोठानों में कार्यों की समीक्षा करते हुए महिलाओं की आय बढ़ाने के लिए उन्हें रोजगार मूलक कार्यों से जोड़ने के लिए आवश्यक प्रयास करें। ताकि अधिक से अधिक लोगों को योजना का लाभ मिल सके। किसानों को समिति के माध्यम से गुणवत्तापूर्ण खाद-बीज वितरण करना सुनिश्चित करें। पीडीएस दुकानों में लगातार निरीक्षण और जाँच करते रहें ताकि हितग्राहियों को राशन मिलने में कोई परेशानी न हो। इस दौरान राजस्व की लंबित प्रकरणों के मामले में गति से कार्य कर राजस्व प्रकरणों को समयावधि में निराकरण करने के निर्देश दिए। बैठक में सर्व अनुविभागीय अधिकारी राजस्व, तहसीलदार, नायब तहसीलदार, उपस्थित थे। बैठक में अपर कलेक्टर ने सीमांकन, नामान्तरण के प्रकरण को लक्ष्य निर्धारित कर शीघ्र निराकरण करने के निर्देश दिए। उन्होंने राजस्व मामले से संबंधित लंबित एवं प्रक्रियाधीन है उस कार्य को शीघ्र प्रारंभ कर प्रकरण निराकरण करने के निर्देश दिए। उन्होंने राजस्व अधिकारियों से लंबित राजस्व प्रकरणों की स्थिति ई-कोर्ट क्रियान्वयन, तथा भू-अर्जन के लंबित प्रकरणों व मुआवजा भुगतान की जानकारी ली। अपर कलेक्टर ने अविवादित/ विवादित नामांतरण, बंटवारा एवं सीमांकन के प्रकरणों की समीक्षा करते हुए शीघ्र निराकरण हेतु आवश्यक दिशा-निर्देश दिये। उन्होंने बताया कि खरीफ वर्ष 2023-24 में समर्थन मूल्य पर धान खरीदी में पारदर्शिता लाने के लिए बायोमेट्रिक आधारित खरीदी प्रणाली लागू की जा रही है, जिसमें किसान अपना बायोमेट्रिक प्रमाणीकरण अंगूठा लगाकर पश्चात धान की बिक्री कर सकता है। किसानों का समर्थन मूल्य पर धान खरीदी के दौरान कोई असुविधा ना हो इसके लिए उनके परिवार एवं रिश्तेदारों को नॉमिनी बनाने की सुविधा प्रदान किया गया है। जिसके आधार पर स्वयं उपस्थित होकर या उनके नॉमिनी के द्वारा धान की बिक्री की जा सकती है। इसके अतिरिक्त समर्थन मूल्य पर धान खरीदी हेतु विश्वसनीय व्यक्ति की नियुक्ति धान खरीदी केंद्रों में की जाएगी, जो धान खरीदी में सहयोग प्रदान करेंगे। उन्होंने मुख्यमंत्री जन चौपाल, जनदर्शन, ई-समाधान, ई-शिकायत, जन शिकायत से संबंधित विभिन्न विभागों के लंबित प्रकरणों की जानकारी लेते हुए समय-सीमा में उक्त प्रकरणों का निराकरण करने के निर्देश संबंधित अधिकारियों को दिये।
समीक्षा बैठक में संयुक्त कलेक्टर सी. एस. पैकरा, एसडीएम श्रीमती अभिलाषा पैकरा, विजेंद्र सारथी, तहसीलदार नीरज कांत तिवारी, शशिकांत मिश्रा, खाद्य अधिकारी सहित अन्य जिला स्तरीय अधिकारी कर्मचारी उपस्थित थे।

Chhattisgarh24News.Com के व्हाट्सएप चैनल को फॉलो करना न भूलें 👇

 https://whatsapp.com/channel/0029Va4mCdjL7UVLuM2mkj0Q 
ताज़ा खबरे

Video News

NEWS

error: \"छत्तीसगढ़ 24 न्यूज़\" के कंटेंट को कॉपी करना अपराध है।