आरक्षण विवाद सुलझाने राज्य सरकार ने बनाई समिति, मंत्री को बनाया अध्यक्ष…

रायपुर : आरक्षण विवाद (Reservation controversy) सुलझाने छत्तीसगढ़ की राज्य सरकार ने 5 सदस्यीय समिति का गठन किया है। कृषि मंत्री रामविचार नेताम की अध्यक्षता में यह समिति बनाई गई है। 2 साल के अंदर एसटी-एससी, ओबीसी आरक्षण पर राज्य सरकार को अपना सुझाव देगी।

समिति के अध्यक्ष मंत्री राम विचार नेताम ने बताया कि, इस मामले में पहले से ही समिति बनना था। समय-समय पर बैठकें होनी थी, लेकिन नहीं हुई। और भी बहुत सारे मुद्दे हैं, चाहे आरक्षण का हो, पदोन्नति का हो। तमाम विषय जस के तस पड़े हुए हैं। हमारे मुख्यमंत्री ने समिति के गठन का त्वरित निर्णय है। सदस्यों के साथ जब हम बैठेंगे, तब तमाम अधिकारी इस समिति की प्रक्रिया तय करेंगे।

समिति की समयावधि को लेकर कांग्रेस के आरोप पर मंत्री राम विचार नेताम ने कहा कि, आरोप बेबुनियाद है। कोई भी कमेटी बनती है तो उसको समय सीमा दिया जाता है। जो भी निर्णय लिया जाएगा वह न्याय संगत होगा। समिति में विधायक गोमती साय, गुरु खुश्वंत सिंह, नीलकंठ टेकाम, गजेंन्द्र यादव व संगीता सिन्हा को शामिल किया गया है। मानसून के समय खाद-बीज की संकट पर मंत्री रामविचार नेताम ने कहा कि, समय-समय पर इस विषय को उठाया गया है।

अधिकारियों से लगातार संपर्क में हूं। विभिन्न जिलों में और संभागों में अधिकारियों को भेजा गया है। एवं सभी को जिले और संभाग में विशेष बैठक बुलाने के निर्देश दिए हैं। सेक्रेटरी लेवल के सभी अधिकारी निगरानी कर रहे हैं। राजधानी दिल्ली से लौटकर वरिष्ठ अधिकारियों के साथ चर्चा की जाएगी।

Advertisement

ताज़ा खबरे

Video News

NEWS

error: \"छत्तीसगढ़ 24 न्यूज़\" के कंटेंट को कॉपी करना अपराध है।