गरियाबंद वनमण्डल की 70 प्राथमिक वनोपज सहकारी समितियों में तेंदूपत्ता संग्रहण कार्य प्रारंभ

इस वर्ष तेंदूपत्ता संग्रहण पारिश्रमिक दर 5500 रुपये प्रति मानक बोरा निर्धारित , संग्रहण लक्ष्य 83000 मानक बोरा

किरीट भाई ठक्कर, गरियाबंद 01 मई 2024 / गरियाबंद । जिला अंतर्गत देवभोग वन परिक्षेत्र की समितियों में तेन्दूपत्ता का संग्रहण कार्य 28 अप्रैल से तथा गरियाबंद, धवलपुर, नवागढ़, परसुली एवं छुरा, मैनपुर, तौरेंगा एवं कुल्हाड़ीघाट परिक्षेत्र की समितियों में 1 मई से प्रारंभ हो चुका है। जिला यूनियन गरियाबंद का संग्रहण वर्ष 2024 में तेन्दूपत्ता संग्रहण लक्ष्य 83000 मानक बोरा रखा गया है । विगत वर्ष गरियाबंद जिले में कुल 77606.433 मानक बोरा तेन्दूपत्ता संग्रहण किया गया था, जिससे 62094 तेन्दूपत्ता संग्राहको को राशि 31 करोड़ 04 लाख 25 हजार 732 रूपये संग्रहण पारिश्रमिक के रूप में भुगतान किया गया था।
वनमंडलाधिकारी लक्ष्मण सिंह के द्वारा अवगत कराया गया कि संपूर्ण वनमण्डल के समस्त 70 समितियों हेतु अग्रिम में क्रेता नियुक्त किये जा चुके है, तेन्दूपत्ता संग्रहण हेतु पूरी तैयारी वनविभाग के द्वारा की गई है।

समीक्षा बैठक सम्पन्न

फड़ों पर जिला कार्यालय एवं वन विभाग के समन्वय से फड़ अभिरक्षक, जोनल अधिकारियों की नियुक्ति की जा चुकी है । तेन्दूपत्ता संग्रहण प्रारंभ करने के सबंध में 30 अप्रैल को समीक्षा बैठक आयोजित की गई थी, जिसमें समस्त जोनल अधिकारी, प्रबंधक एवं पोषक अधिकारियों को संग्रहण संबंधी आवश्यक दिशा-निर्देश दिये गये है।
शासन द्वारा वर्ष 2023 के तेन्दूपत्ता संग्रहण पारिश्रमिक दर 4000 रूपये में उल्लेखनीय वृद्धि करते हुए इस वर्ष तेन्दूपत्ता संग्रहण पारिश्रमिक 5500 रूपये प्रति मानक बोरा निर्धारित किया गया है, जिसका विभाग द्वारा व्यापक प्रचार-प्रसार किया जा रहा है। संग्रहण दर में हुई इस वृद्धि से आम संग्राहकों में अत्यंत उमंग एवं उल्लास का माहौल है। संग्रहण लक्ष्य अनुसार इस वर्ष जिले में संग्रहण पारिश्रमिक की राशि 45.65 करोड़ रूपये का भुगतान किया जावेगा, जिसके तहत् जिले में लगभग 66000 तेन्दूपत्ता संग्राहक परिवार लाभान्वित होंगे।

मोंगरा समिति सबसे अधिक दर पर

वर्ष 2024 अंतर्गत वन परिक्षेत्र के प्राथमिक वनोपज सहकारी समिति मर्यादित मोंगरा समिति सबसे अधिक दर 10 हजार 675 रूपये प्रति मानक बोरा की दर पर विक्रय हुआ है। वनमंडलाधिकारी ने अवगत कराया कि तेन्दूपत्ता संग्राहकों को संग्रहण पारिश्रमिक के अतिरिक्त बीमा तथा शिष्यवृत्ति योजना, बोनस का लाभ मिलता है। वनमण्डलाधिकारी द्वारा तेन्दूपत्ता संग्राहको से अपील की गई है कि अच्छी गुणवत्ता युक्त तेन्दूपत्ता ही फड़ों पर लावें एवं जिन संग्राहको के द्वारा ऑनलाईन सर्वेक्षण नहीं कराया गया है वे नजदीकी कॉमन सर्विस सेंटर में प्रबंधकों /फड़मुंशी के माध्यम से संपर्क कर ऑनलाईन सर्वेक्षण कार्य पूर्ण करावें । प्रत्येक संग्राहक परिवार द्वारा कम से कम 500 गड्डी तेंदूपत्ता का संग्रहण अवश्य किया जावे ताकि उन्हें शासन की अनेक जन कल्याणकारी योजनाओं का लाभ प्राप्त हो सके ।

"छत्तीसगढ़ 24 न्यूज़" के लिए किरीट ठक्कर की रिपोर्ट
"छत्तीसगढ़ 24 न्यूज़" के लिए किरीट ठक्कर की रिपोर्टhttps://chhattisgarh-24-news.com
किरीट ठक्कर "छत्तीसगढ़ 24 न्यूज़" संवाददाता

Advertisement

ताज़ा खबरे

Video News

NEWS

error: \"छत्तीसगढ़ 24 न्यूज़\" के कंटेंट को कॉपी करना अपराध है।