अवैध रेत परिवहन के मामले में पांच सरपंच एवं तत्कालीन सचिवों को नोटिस , एसडीएम राजिम ने जारी किया नोटिस

पत्रकारों पर रेत माफ़िया के हमले के बाद प्रशासन सख्त ,अब ठीकरा निचले स्तर पर फोड़ने की तैयारी

किरीट भाई ठक्कर, गरियाबंद । जिले के राजिम क्षेत्र में बुधवार रेत माफ़िया द्वारा कुछ पत्रकारों पर किये गये हमले के बाद जिला प्रशासन द्वारा अब सख्त रुख अपनाया जा रहा है। गहरी नींद से जाग उठे प्रशासनिक अमले द्वारा रेत के अवैध उत्खनन एवं परिवहन के मामले में लगातार कार्यवाही की जा रही है। इसी संबंध में राजिम क्षेत्र के पांच गांवों के सरपंच एवं तत्कालीन ग्राम पंचायत सचिवों को कारण बताओं नोटिस जारी किया गया है। एसडीएम राजिम के द्वारा ग्राम पंचायत चौबेबांधा, रावड़, सिंधौरी एवं हथखोज के सरपंच एवं ग्राम पंचायत सचिवों को गांवों में हो रहे अवैध उत्खनन के संबंध में जवाब प्रस्तुत करने कारण बताओ नोटिस जारी किया गया है। इसी प्रकार ग्राम पंचायत परसदाजोशी में पूर्व में अवैध रेत उत्खनन की शिकायत प्राप्त होने पर एसडीएम राजिम द्वारा सीमांकन प्रतिवेदन की जानकारी मांगे जाने पर तीन माह उपरांत भी जवाब प्रस्तुत नहीं करने पर परसदाजोशी के सरपंच एवं तत्कालीन सचिव को भी कारण बताओं नोटिस दिया गया है।
एसडीएम राजिम द्वारा जारी किये गये नोटिस में उल्लेखित है कि अनुविभाग राजिम अंतर्गत रेत खदानों द्वारा निर्धारित समय से परे रेत का परिवहन बगैर आवश्यक दस्तावेज के किया जा रहा है। जिसके संबंध में वरिष्ठ कार्यालयों एवं एसडीएम कार्यालय द्वारा समय-समय पर आकस्मिक निरीक्षण कर नियमानुसार परिवहन करने के निर्देश दिए गए थे। इसके उपरांत भी संबंधितों द्वारा शासन द्वारा बनाये गये नियमों को ताक में रखकर रेत का अवैध रूप से परिवहन किया जा रहा है। अतएव उक्त कृत्य हेतु क्यों न संबंधितों के विरूद्व पंचायती राज अधिनियम की धारा 40 के अधीन कार्यवाही की जावे, उक्त संबंध में एसडीएम कार्यालय में उपस्थित होकर जवाब प्रस्तुत करना सुनिश्चित करें, जवाब संतोषप्रद नहीं पाये जाने की स्थिति में नियमानुसार कार्यवाही की जायेगी।

रेत के अवैध परिवहन करते पाये जाने पर 16 वाहन जप्त

विदित हो रेत चोरों ने मंगलवार कुछ पत्रकारों के साथ मारपीट कर दी थी। पत्रकार अवैध रेत घाटों में कवरेज के लिए गये थे। इस घटना के बाद स्थानीय प्रशासन तथा प्रदेश की भाजपा सरकार बैक फुट पर आ गयी, स्थानीय निर्वाचित जनप्रतिनिधियों पर भी सवाल उठ रहे हैं। जिसके बाद 2 मई को कलेक्टर दीपक कुमार अग्रवाल के निर्देशन में जिले में खनिजों के अवैध उत्खनन, परिवहन एवं भण्डारण पर कार्यवाही गई, राजस्व परिवहन तथा खनिज विभाग की संयुक्त टीम द्वारा राजिम एवं फिंगेश्वर क्षेत्र में रावड़, हथखोज, चौबेबांधा और सिंधौरी से रेत के अवैध परिवहन करते पाये जाने पर 14 वाहन राजिम थाना में एवं 2 हाईवा फिंगेश्वर थाना में जप्त कर पुलिस अभिरक्षा में रखा गया है, और अब जाकर निचले स्तर पर ठीकरा फोड़ा जा रहा है।

"छत्तीसगढ़ 24 न्यूज़" के लिए किरीट ठक्कर की रिपोर्ट
"छत्तीसगढ़ 24 न्यूज़" के लिए किरीट ठक्कर की रिपोर्टhttps://chhattisgarh-24-news.com
किरीट ठक्कर "छत्तीसगढ़ 24 न्यूज़" संवाददाता

Advertisement

ताज़ा खबरे

Video News

NEWS

error: \"छत्तीसगढ़ 24 न्यूज़\" के कंटेंट को कॉपी करना अपराध है।