पिछड़ी जनजाति परिवारों को राशन, पेंशन सहित नागरिकों से प्राप्त आवेदनों का करे शीघ्र निराकरण – झा

कोरबा : श्री संजीव झा ने जिले में निवासरत विशेष पिछड़ी जनजाति परिवारों को राशन, पेंशन आदि मूलभूत सुविधाओं से लगातार लाभान्वित करने के निर्देश दिए हैं। उन्होंने नागरिकों से प्राप्त विभिन्न समस्याओं और सुझावों से संबंधित आवेदनों का संवेदनशीलता से समय सीमा में निराकरण करने के भी निर्देश दिए हैं।

कलेक्टर श्री झा ने समय सीमा की साप्ताहिक समीक्षा बैठक में सभी अनुविभागीय अधिकारी, मुख्य कार्यपालन अधिकारी को निर्देशित किया कि ग्राम पंचायतों में ग्राम सभा में प्रस्ताव पारित करके पहाडी कोरवा, बिरहोर, पण्डो, विशेष पिछडी जनजाति वर्ग के व्यक्तियों का जाति प्रमाण पत्र वन अधिकार पत्र, राशन कार्ड, भूमिहीन न्याय मजदूर योजना के तहत पात्र हितग्राहियों का पंजीयन कराये। जिससे कोई भी नागरिक मूलभूत सुविधाओं से वंचित ना रहे। जिससे उन्हें शासकीय योजनाओं का लगातार लाभ मिलता रहे।        बैठक में कलेक्टर ने राजीव युवा मितान क्लब के गठन के बारे में भी जानकारी ली। उन्होंने मितान क्लब के पदाधिकारियों को खेल, सांस्कृतिक गतिविधियों आदि के प्रशिक्षण देने के निर्देश दिए। समय सीमा की समीक्षा बैठक में अपर कलेक्टर श्री विजेन्द्र पाटले, डीएफओ कोरबा श्रीमती प्रियंका पाण्डेय, डीएफओ कटघोरा श्रीमती प्रेमलता यादव, मुख्य कार्यपालन अधिकारी जिला पंचायत श्री नूतन कंवर, नगर निगम आयुक्त श्री प्रभाकर पाण्डेय सहित अन्य जिला स्तरीय अधिकारीगण मौजूद रहे।

कलेक्टर श्री झा ने जिले में छूटे हुए लोगों को वैक्सीन एवं बुस्टर डोज हेतु पुनः महाअभियान चलाने के भी निर्देश दिए। जिसमें अधिक से अधिक व्यक्तियों का वैक्सीनेशन कराया जाये। श्री झा ने बैठक में कहा की भूमिहीन किसानों, विशेष पिछडी जनजाति वर्ग के हितग्राहियों को भूमिहीन मजदूर न्याय योजना के तहत पंजीयन करके लाभान्वित किया जाये।

उन्होने निर्देश दिए कि किसी भी विभाग में अनुकम्पा के प्रकरण लंबित न रखे जाये। शासन की महत्वकांक्षी एवं फ्लेगशीप योजनाओं नरवा, गरूवा, घुरूवा, बाडी, गोधन न्याय योजना, स्व सहायता समूह की आजीविका गतिविधियां गौठानों का मल्टीएक्टीविटी सेंटर के रूप में विकसित करने, धान के बदले अन्य फसल योजना आदि के क्रियान्वयन में विशेष ध्यान दिया जाये। कलेक्टर श्री झा ने खाद्य विभाग के अधिकारियो को निर्देशित किया कि इस माह का चांवल का भण्डारण सात तारीख के पहले राशन दुकानों में कर लिया जाये।

उन्होंने गोधन न्याय योजना की समीक्षा करते हुए सभी गौठानों में गोबर खरीदी लगातार जारी रखने, सक्रिय गौठानों की संख्या बढ़ाने, सभी गौठानों में विद्युत व्यवस्था सुनिश्चित करने के भी निर्देश दिए। कलेक्टर ने सभी अनुविभागीय अधिकारियों को निर्देशित किया कि अपने अनुभाग में बुधवार के दिन बैठक करके शासन की महत्वकांक्षी योजनाओं-गौठान, चारागाह, गोधन न्याय योजना के सफल क्रियान्वयन हेतु सतत समीक्षा की जाये।

विभागों में लंबित पीएमओ जन चौपाल, मुख्यमंत्री जन चौपाल, कलेक्टर जन चौपाल आदि में लंबित विभिन्न विभागों की शिकायतों का निराकरण शीघ्र कर लिया जाये। कलेक्टर ने सभी नगर पालिका अधिकारी एवं जनपद पंचायतों के मुख्य कार्यपालन अधिकारियों को सडकों पर आवारा मवेशी की रोकथाम के लिए भी आवश्यक व्यवस्था सुनिश्चित करने के निर्देश दिए।

Advertisement

ताज़ा खबरे

Video News

NEWS

error: \"छत्तीसगढ़ 24 न्यूज़\" के कंटेंट को कॉपी करना अपराध है।