दिग्विजय कालेज के प्राचार्य डाॅ. टाण्डेकर हुए सेवानिवृत्त स्टाफ ने धूमधाम से दी विदाई

राजनांदगांव । शासकीय दिग्विजय महाविद्यालय के प्राचार्य डाॅ. के. एल. टाण्डेकर अपनी अधिवार्षिकी शासकीय सेवा पूर्ण करने के बाद 30 अप्रैल 2024 को सेवानिवृत्त हो गए। वे दिग्विजय महाविद्यालय में दो साल चार माह प्राचार्य के रूप मे पदस्थ रहे। इस अवधि में महाविद्यालय के सर्वांगिण विकास के लिए उल्लेखनीय कार्य किये। उन्होंने इस अवसर पर कहा कि इस महाविद्यालय में कार्य करना सुखद और चुनौतीपूर्ण रहा ।

आपने इस संस्था के सतत विकास की कामना की और स्टाफ से उम्मीद की कि वे अपनी योग्यता और प्रतिभा के अनुरूप अपने दायित्व का पालन करते रहेंगे। उन्होंने वरिष्ठ प्राध्यापक डाॅ. अंजना ठाकुर को अपना प्रभार सौंपते हुए उन्हें शुभकामनाएं दी।

डाॅ. टाण्डेकर की सेवानिवृत्ति के अवसर पर महाविद्यालय स्टाफ द्वारा भव्य आयोजन के साथ उन्हें विदाई दी गई। इस अवसर पर स्टाॅफ काॅंसिल की ओर से अभिनन्दन पत्र, शाॅल, श्रीफल, अंगवस्त्र और बहुत-से उपहार भी प्रदान किये गए। विदाई समारोह में उनके परिजनों को भी सादर आमंत्रित किया गया था।

महाविद्यालय के बख्शी सभागार में आयोजित विदाई समारोह में महाविद्यालय के सभी प्राध्यापकों, कार्यालयीन स्टाफ तृतीय व चतुर्थ वर्गीय कर्मचारियों तथा डाॅ. टाण्डेकर के परिवार जनों की उपस्थिति में उनके अतीत को चित्रों के माध्यम से प्रदर्शित किया गया साथ ही उनके प्राध्यापकीय जीवन तथा प्राचार्य के दायित्व से संबंधित आधे घंटे की बातचीत की रिकार्डिंग भी दृश्यपटल पर प्रदर्शित की गई।

उसके बाद सृजन संवाद भवन में सभी ने एकसाथ विदाई भोज का आनंद उठाया। अंत में संध्या साढ़े छह बजे उन्हें बग्गी पर बैठाकर गाज-बाजे के साथ नगर भ्रमण कराते हुए उन्हें घर तक पहुंचाया गया। इस आयोजन में नगर के समाजसेवी संस्थाओं के लोग भी शामिल थे।

Advertisement

ताज़ा खबरे

Video News

NEWS

error: \"छत्तीसगढ़ 24 न्यूज़\" के कंटेंट को कॉपी करना अपराध है।