भारी बारिश में ट्रेन में अचानक शख्स को आया हार्ट अटैक, सुपरहीरो ने बचाई जान

रायपुर : बारिश ने जमकर इम्तिहान लिया। मंदिर-हसौद रेलवे स्टेशन में हड़कंप मच गया, जब रेल यात्री को चलती ट्रेन में हार्ट अटैक आ गया। तुरंत ट्रेन की चेन खींची गई, ट्रेन रुकी तो एंबुलेंस के रास्ते पर मालगाड़ियां रोड़ा बन रही था, फिर आरपीएफ ने मरीज की जान बचाने के लिए स्टेशन मास्टर से बात कर मालगाड़ियों को हटवाई, फिर मरीज को तुरंत अस्पताल लाया गया। ट्रेन से एक शख्स अपनी पत्नी के साथ रायपुर से भुवनेश्वर के लिए निकला हुआ था।

मंदिर हसौद पहुंचे थे तभी हार्ट अटैक आ गया, इस दौरान प्लेटफॉर्म में चैन की चैन खींची गई। ट्रेन में अलार्म बजते ही ऑन ड्यूटूी ऑफिसर ने दौड़ लगाई, तो पता यह चला की एक शख्स को हार्ट अटैक आया है। मंदिर हसौद यार्ड में मालगाड़ियों की कतार लगी हुई थी, जिस वजह से एंबुलेंस को मरीज तक पहुंचने में परेशानियां का सामना करना पड़ रहा था। फिर मरीज को तत्काल इलाज की जरूरत थी, इसलिए RPF ने मरीज को बचाने के लिए RPF सब इंस्पेक्टर तरूणा साहू के नेतृत्व में तत्काल मालगाड़ियों को वहां से हटवाया और फिर एंबुलेंस को मरीज तक लाया गया।

एक और परेशानी

एक मालगाड़ी और आ गया फिर फाटक बंद हो गया, फिर दूसरे रास्ते से मरीज को अस्पताल ले जाया गया। बता दे की मरीज का इलाज अब जारी है। ये सब ‘गोल्डन आवर’ के कारण किया गया था, ताकि मरीज की जिंदगी बच सके, क्योंकि हार्ट अटैक के मरीज की सेहत के लिहाज से बहुत महत्वपूर्ण माना गया है। जिस व्यक्ति को हार्ट अटैक आया है अगर उसे समय के साथ सही इलाज मिल जाए तो उसकी जिंदगी बच सकती है।

आपकी जानकारी के लिए बता दें यह मामला ट्रेन नंबर 18426 इंटरसिटी एक्सप्रेस का है। रेल सुरक्षा बल मंदिर हसौद चौकी प्रभारी तरुणा साहू, आरक्षक सीके साहू और स्टाफ ने सबसे बड़ी भूमिका निभाई है, जिसके कारण मरीज की जान बच पाई। मरीज का नाम अशोक अग्रवाल (62 वर्ष)

Advertisement

ताज़ा खबरे

Video News

NEWS

error: \"छत्तीसगढ़ 24 न्यूज़\" के कंटेंट को कॉपी करना अपराध है।