पंचमी को परमेश्वरी की हुई महाआरती, लगा निशुल्क स्वास्थ्य परीक्षण शिविर

माँ परमेश्वरि की आरती पूजा करते समाज के अध्यक्ष श्री घनश्याम देवांगन एवं उनकी धर्मपत्नी सुमन देवांगन जी “छत्तीसगढ़ 24 न्यूज़” संपर्क एवं व्हाट्सप्प नंबर 9406414023

भिलाई/संतोष देवांगन : पंचमी को परमेश्वरी मंदिर में महाआरती में 300 लोग सम्मिलित हुए: प्रगति नगर रिसाली भिलाई स्थित परमेश्वरी मंदिर में चैत्र नवरात्रि का पर्व धूमधाम से मनाया जा रहा है। इसी परिप्रेक्ष्य में पंचमी को के दिन प्रगति नगर रिसाली स्थित “परमेश्वरी मंदिर” में माताजी का विशेष श्रृंगार किया गया। संध्या समय मां परमेश्वरी की “महाआरती” हुई, जिसमें 100 से अधिक महिलाओं ने अपने घरों से सजा कर लाए आरती की थालियों से आरती किया । देवांगन जन कल्याण समिति भिलाई के अध्यक्ष घनश्याम कुमार देवांगन एवं उनकी पत्नी सुमन देवांगन ने मुख्य यजमान के रूप में आरती की।…..👇👇👇

“परमेश्वरी भवन में निशुल्क स्वास्थ्य परीक्षण शिविर का आयोजन

निशुल्क स्वास्थ्य परीक्षण शिविर में 175 लोगों ने परीक्षण कराया : इस अवसर पर परमेश्वरी भवन में निशुल्क स्वास्थ्य परीक्षण शिविर का आयोजन किया गया था। शिविर में लगभग 175 लोगों ने अपना स्वास्थ्य परीक्षण कराया। इस अवसर पर वरिष्ठ चिकित्सक डॉ. सूर्यमंगल देवांगन, डॉ कोमल देवांगन, डॉ मनीष देवांगन, डॉ आशीष देवांगन, डॉ लता देवांगन एवं डॉ गोपाल देवांगन ने स्वास्थ्य परीक्षण शिविर में अपनी सेवाएं दीं ।…..👇👇👇

महिलाओं ने आरती की थाल सजाकर आरती की : देवांगन जन कल्याण समिति भिलाई की ‘संस्कृति विभाग’ की ओर से “आरती की थाली सजाओ” प्रतियोगिता का भी आयोजन किया गया । जिसमें आशा देवांगन प्रथम, योगिता देवांगन द्वितीय एवं लक्ष्मी देवांगन तृतीय स्थान पर रही। शेष सभी प्रतिभागियों के लिए सांत्वना पुरस्कार घोषित किया गया। महाआरती के बाद जस गीत टीमों ने जस गीतों का गायन किया। साथ ही सांस्कृतिक विभाग द्वारा आकर्षक भक्ति गीत संगीत प्रस्तुत किया गया।…..👇👇👇

इस अवसर पर विशेष भोग प्रसाद का भी वितरण किया गया। देवांगन जन कल्याण समिति भिलाई की केन्द्रीय समिति, महिला प्रकोष्ठ एवं युवा प्रकोष्ठ के पदाधिकारी, सभी विभागों के प्रभारी सहित श्रद्धालु गण सैकड़ों की संख्या में उपस्थित होकर महाआरती में शामिल हुए ।

Advertisement

ताज़ा खबरे

Video News

NEWS

error: \"छत्तीसगढ़ 24 न्यूज़\" के कंटेंट को कॉपी करना अपराध है।