खैरागढ़ में कांगेस मयूरी सिंह पर दांव लगाते है तो जीत निश्चित

राजनांदगांव : नवीन जिला खैरागढ़ छुईखदान गंडई में जातिगत से हटकर सामान्य को भाजपा ने टिकट दिया है तो जिले  में चर्चा है कि क्या नवीन जिले खैरागढ़ छुईखदान गंडई में किसी कांगेस नए चेहरे की तलाश है। भाजपा जहां एक और वहां से विक्रांत सिंह को टिकट दिया है। इस बार लोधी बाहुल्य जिला में युवा चेहरे को मौका देना भाजपा के लिए नया प्रयोग भी है, वहीं कांग्रेस की बात करें तो नए नए चेहरे और युवा चेहरे में मयूरी सिंह का नाम सामने आ रहा है।



उनके दादा लाल ज्ञायेंद्र सिंह पंडित जवाहरलाल नेहरू के समय खैरागढ़ कांग्रेस के पहले विधायक रह चुके हैं जो शुरुआती दौर में लगातार पार्टी के लिए काम किए हैं, इसके दादा पार्टी के कई वरिष्ठ लोगो के साथ कांगेस में काम कर चुके है इन सबके बीच मयूरी सिंह का लगातार संपर्क लगातार कांग्रेस के लिए सही साबित होगा। अगर कांग्रेस भाजपा की तरह सामान्य वर्ग से किसी महिला को टिकट देती है तो मुकाबला दिलचस्प होगा।अब आने वाला समय ही बताएगा कि कांग्रेस की रणनीति किस तरह काम करेगी।



जनमानस यह सवाल है कि सामान्य वर्ग से अगर भाजपा ने टिकट दिया है तो सामान्य वर्ग से कांग्रेस को ही टिकट मिलने चाहिए ऐसा लोग कह रहे हैं, भूपेश सरकार के किए गए कार्यों को लेकर मयूरी सिंह लगातार नवीन जिला खैरागढ़ छुईखदान गंडई में लोगों के बीच पहुंच रही है चाहे भूपेश सरकार का जनकल्याण कारी योजना हो या प्रसार प्रचार हो उसमें बढ़-चढ़कर हिस्सा ले रही है जिले के अंतिम छोर पर भी पहुंचकर कांग्रेस के द्वारा जनहित के कार्यों को जन जन तक पहुंचा रही है ऐसे में जब भाजपा ने नए चेहरे एवं सामान्य वर्ग से विक्रांत सिंह को टिकट दे सकती है तो कांग्रेस से मयूरी सिंह का नाम क्या कांग्रेस लाएगी?

Advertisement

ताज़ा खबरे

Video News

NEWS

error: \"छत्तीसगढ़ 24 न्यूज़\" के कंटेंट को कॉपी करना अपराध है।