2 सगी बहनों के साथ गैंग रेप, भाजपा मंडल उपाध्यक्ष के बेटे सहित सभी आरोपी गिरफ्तार

 (रायपुर )  छत्तीसगढ़ राज्य की राजधानी रायपुर में गैंग रेप का मामला सामने आया है। बीती रात रक्षाबंधन पर्व मनाकर युवक के साथ 2 युवतियां वापिस घर लौट रही थी। तभी रिम्स कॉलेज के पास दरिंदो के झुंड ने रास्ता रोका और फिर युवक की पिटाई की। इसके बाद सुनसान सड़क पर , भाजपा मंडल उपाध्यक्ष के बेटे समेत 10 दरिंदों ने दोनों सगी बहनों के साथ गैंग रेप किया। इस घटना की सुचना मिलते ही पुलिस ने तुरंत कार्रवाई करते हुए इस वारदात को अंजाम देने वाले 10 आरोपियों को गिरफ्तार किया। आपको बता दे कि, गैंग रेप का मुख्य आरोपी भाजपा मंडल उपाध्यक्ष लक्ष्मीनारायण सिंह का बेटा है। जिसके खिलाफ कई अपराध थाना में दर्ज हैं।

जानकारी के मुताबिक, राजधानी के मंदिर हसौद थाना में देर रात 1 बजे प्रार्थिया ने रिपोर्ट दर्ज कराया कि, वह एक लड़के और छोटी बहन के साथ राखी त्यौहार मनाकर स्कूटी में सवार होकर भानसोज के रास्ते वापस रायपुर आ रही थी।  मोटर सायकल में 3 लोग सवार थे। और उन लोगों ने हाथ देकर रोक लिया। फिर डरा धमका कर प्रार्थी पक्ष के पास रखे मोबाइल और पैसे को लूट लिया। इसके बाद पीछे से क़रीब 4 मोटर सायकल में और लड़के आ गये। प्रार्थिया एवं उसकी बहन को जान से मारने की धमकी देकर 1 मोटरसायकल में बिठाकर सड़क से कुछ दूर ले गए। इसके बाद लड़कों ने उनके साथ दुष्कर्म किया।

घटना की जानकारी मिलते ही एसएसपी प्रशांत अग्रवाल ने एडिशनल एसपी नीरज चन्द्राकर, चंचल तिवारी, डीएसपी अविनाश मिश्रा, दिनेश सिन्हा ललिता मेहर और जिले के 6 थानेदारों को तुरन्त घटनास्थल जाकर आरोपियों की गिरफ्तारी का निर्देश जारी किये और रात में ही स्वयं मंदिर हसौद थाना पहुंचे। पीड़िता से बात कर घटना की जानकारी ली। आरोपी अज्ञात थे लेकिन प्रार्थिया के बताये अनुसार हुलिये और अन्य जानकारी के आधार पर पुलिस की मल्टीपल टीम्स टीम ने रात को रेलवे स्टेशन और अन्य अलग-अलग जगहों से 10 आरोपियों को हिरासत लिया है।

आरोपियों के नाम : 1 पूनम ठाकुर 2. घनश्याम निषाद 3. लव तिवारी 4. नयन साहू 5. केवल वर्मा उर्फ़ सोनू 6. देवचरण धीवर 7. लक्ष्मी ध्रुव 8. प्रहलाद साहू। जिनमे से 5 आरोपी पिपरहट्टा गांव के हैं और शेष आरोपी बोरा, उमरिया और टेकारी गांव के हैं। इस घटना के मुख्य आरोपी पूनम ठाकुर आदतन अपराधी है।

इस घटना के मुख्य आरोपी पूनम ठाकुर के विरुद्ध थाना मंदिर-हसौद और आरंग में कुल 5 मामले पंजीबद्ध है। 2019 वर्ष मे हत्या के मामले में रायपुर पुलिस ने गिरफ़्तार कर जेल भेजा था। इसके बाद 2022 में बलात्कार के मामले में रायपुर पुलिस ने गिरफ़्तार कर जेल भेजा था जो कि, 17 अगस्त 2023 को जमानत पर रिहा हुवा है। वहीं जेल से छूटने के कुछ ही दिन के अंदर फिर से घिनौना कृत्य किया है। उपरोक्त आरोपियों से लूटा गया मोबाइल भी जब्त किया गया है।  पूछताछ जारी है। आपके जानकारी के लिए बता दे कि, यह पूरा मामला मंदिर हसौद थाना क्षेत्र का है।

Chhattisgarh24News.Com के व्हाट्सएप चैनल को फॉलो करना न भूलें 👇

 https://whatsapp.com/channel/0029Va4mCdjL7UVLuM2mkj0Q 
ताज़ा खबरे

Video News

NEWS

error: \"छत्तीसगढ़ 24 न्यूज़\" के कंटेंट को कॉपी करना अपराध है।