भविष्य व नवपीढ़ी के लिए ऊर्जा संरक्षण जरूरी-कलेक्टर श्री लंगेहकलेक्टर ने दिलाया ऊर्जा संरक्षण संकल्प

भविष्य व नवपीढ़ी के लिए ऊर्जा संरक्षण जरूरी-कलेक्टर श्री लंगेहकलेक्टर ने दिलाया ऊर्जा संरक्षण संकल्प

कोरिया 19 दिसम्बर, 2023/ आज ऊर्जा संरक्षण के महत्व पर कलेक्टर सभागार में अधिकारियों, कर्मचारियों को कलेक्टर श्री विनय कुमार लंगेह ने ऊर्जा संरक्षण संकल्प दिलाया गया है। उन्होंने ऊर्जा संरक्षण के बारे में महत्वपूर्ण जानकारी भी साझा की। सभी अधिकारियों, कर्मचारियों ने संकल्प लेते हुए कहा कि ‘हम ऊर्जा का अपव्यय रोकेंगे एवं अन्य लोगों को भी ऊर्जा अपव्यय रोकने हेतु जागरूक करेंगे। हम ऊर्जा संरक्षण हेतु ऊर्जा दक्ष विद्युत उपकरणों के उपभोग हेतु जागरूक करेंगे। हम सौर संयंत्रों का उपयोग करेंगे तथा अन्य लोगों को भी उपयोग हेतु जागरूक करेंगे। हम जल का अपव्यय रोकेंगे तथा लोगों को इस हेतु जागरूक करेंगे। हम पर्यावरण संरक्षण हेतु पेड़ों को कटने से रोकेंगे तथा वृक्षारोपण करेंगे। आदर्श नागरिक होने के नाते हम ऊर्जा पर्यावरण एवं जल संरक्षण हेतु लोगों को जागरूक करेंगे ताकि आगे आने वाली पीढ़ी के लिये एक बेहतर वातावरण सुनिश्चित हो सके। एक नये व स्वच्छ भारत का निर्माण कर सकें।बता दें ऊर्जा संरक्षण जलवायु परिवर्तन को कम करने में एक महत्वपूर्ण कारक है। यह गैर-नवीकरणीय संसाधनों के लिए नवीकरणीय ऊर्जा के प्रतिस्थापन में सहायता करता है। ऊर्जा संरक्षण अक्सर ऊर्जा की कमी का सबसे अधिक लागत प्रभावी समाधान है, साथ ही ऊर्जा उत्पादन में वृद्धि के लिए पर्यावरण अनुकूल विकल्प भी है। जब हम ऊर्जा बचाते हैं, तो हम देश का बहुत सारा पैसा बचाते हैं। हम ऊर्जा का उत्पादन जितनी तेजी से कर सकते हैं उससे अधिक तेजी से उपभोग करते हैं। सबसे अधिक उपयोग किए जाने वाले ऊर्जा स्रोत, कोयला, तेल और प्राकृतिक गैस को बनने में हजारों साल लगते हैं। जब हम ईंधन की लकड़ी का कुशलतापूर्वक उपयोग करते हैं, तो हमारी ईंधन लकड़ी की आवश्यकताएं कम हो जाती हैं, साथ ही इसे इकट्ठा करने के लिए हमारी मेहनत भी कम हो जाती है। एक इकाई ऊर्जा बचाना दो इकाई ऊर्जा पैदा करने के बराबर है। ऊर्जा उत्पादन और खपत वायु प्रदूषण के एक महत्वपूर्ण हिस्से और 83 प्रतिशत से अधिक ग्रीनहाउस गैस उत्सर्जन के लिए जिम्मेदार है।कलेक्टर श्री विनय कुमार लंगेह ने अधिकारियों, कर्मचारियों एवं जिलेवासियों से आव्हान किया कि प्राकृतिक रूप से प्राप्त कोयला, पेड़, पानी, खनिज, ऊर्जा, बिजली आदि की बचत सबकी जिम्मेदारी है, भविष्य व नई पीढ़ी के लिए प्रकृति प्रदत्त संसाधनों को बचाकर रखना भी हम सबकी जवादेही है। इसलिए जितनी जरूरत हो उतना ही उपयोग करें।बता दें छत्तीसगढ़ राज्य अक्षय ऊर्जा अभिकरण (क्रेडा) द्वारा विगत 11 वर्षों में प्रदेष में ऊर्जा संरक्षण एवं ऊर्जा दक्षता के क्षेत्र में महत्वपूर्ण उपलब्धियां हासिल की है। ऊर्जा संरक्षण संकल्प के अवसर पर अपर कलेक्टर श्रीमती नंदिनी साहू, संयुक्त कलेक्टर श्री नीलम टोप्पो, डिप्टी कलेक्टर श्री राकेश कुमार साहू, डिप्टी कलेक्टर श्रीमती चांदनी कंवर सहायक अभियंता व जिला प्रभारी क्रेडा श्री सुजीत श्रीवास्तव

Advertisement

ताज़ा खबरे

Video News

NEWS

error: \"छत्तीसगढ़ 24 न्यूज़\" के कंटेंट को कॉपी करना अपराध है।