जनक के प्रयास से तीन गॉव का एक दशक पुराना मांग हुआ पूरा

✍️ “छत्तीसगढ़ 24 न्यूज़” जिला ब्यूरो चीफ सैयद बरकत अली की रिपोर्ट गरियाबंद

गरियाबंद/देवभोग : आदिवासी कांग्रेस के प्रदेश अध्यक्ष जनक ध्रुव के प्रयास से तीन गॉव के सैकड़ो किसानों की एक दशक पुरानी मांग पूरी हो गई है। जनक के प्रयास से छत्तीसगढ़ शासन ने घूमरगुड़ा में धान खरीदी केंद्र खोले जाने की स्वीकृति प्रदान कर दी है। यहां बताना लाजमी होगा कि घूमरगुड़ा, बरकानी और सरगीगुड़ा के सैकड़ो किसान पिछले एक दशक से घूमरगुड़ा में मंडी खोले जाने की मांग कर रहे थे। किसानों का कहना था कि तीन गॉव के किसानों को धान बेचने के लिए लाटापारा धान खरीदी केंद्र तक पहुंचना पड़ता है।

वहीं तीन गॉव के लोगों को दस किलोमीटर का सफर तय कर लाटापारा केंद्र तक पहुंचना पड़ता था। वहीं लम्बे समय से किसान इस मांग को लेकर तत्कालीन सरकार में बैठे जिम्मेदारों से भी मांग कर चुके थे, लेकिन जिम्मेदारों ने कभी उनकी मांग को गंभीरता से नहीं लिया। जिसके बाद तीन गॉव के किसान मायूस हो गए थे। इस बीच जनक ध्रुव महीने भर पहले घूमरगुड़ा गॉव के दौरे पर पहुँचे थे।  जनक के दौरे के दौरान उन्हें किसानों ने फिर इस मांग से अवगत करवाया। और अपनी परेशानियों से उन्हें अवगत करवाया।

किसानों की परेशानी सुनने के बाद जनक ने उन्हें पूर्ण रूप से भरोसा दिलवाया कि महीने भर के अंदर उनकी सालों पुरानी इस मांग को वे पूरा करवाएंगे और उनकी समस्याओं को दूर करेंगे। दौरे से लौटने के बाद जनक ने तत्काल इस मांग को जिले के प्रभारी और खाद्य मंत्री अमरजीत भगत को अवगत करवाया। प्रभारी मंत्री ने मांग को गंभीरता से लेकर प्रदेश के मुखिया से इस मांग को लेकर चर्चा की।  इस दौरान मुख्यमंत्री भूपेश बघेल के निर्देश पर घूमरगुड़ा में धान खरीदी केंद्र खोले जाने की स्वीकृति मिल गई।

कार्यक्रम में पहुँचे जनक ने आमजनों को सम्बोधित करते हुए कहा कि प्रदेश की भूपेश सरकार किसान हितैषी सरकार है। सरकार ने हमेशा किसानों के हित में कदम उठाया है। उसी का नतीजा है कि तीन गॉव के सैकड़ो किसानों की सालों पुरानी मांग पूरी हुई। जनक ने कहा कि भूपेश बघेल की कांग्रेस सरकार किसानों की सरकार है। प्रदेश के मुखिया आज हर वर्ग के विकास के लिए काम कर रहे है।  उन्होंने कहा कि छत्तीसगढ़ की भूपेश सरकार ने जो कहा है। उसे करके दिखाया है। जनक ने नारा दिया कि भूपेश है तो भरोसा है।  कार्यक्रम के दौरान लाटापारा के पूर्व मंडी अध्यक्ष खिलावन पात्र, युवा नेता उमेश डोंगरे, लाटापारा मंडी के नवनियुक्त अध्यक्ष धनसिंग मरकाम, जनपद उपाध्यक्ष सुखचंद्र बेसरा, देवभोग मंडी अध्यक्ष राजेश तिवारी ने भी सम्बोधित किया।

ग्रामीण ने जमीन दान देकर पेश किया मिशाल -: घूमरगुड़ा में खरीदी केंद्र खोले जाने की प्रक्रिया तेजी से आगे बढ़ रहा था। इस दौरान केंद्र खोले जाने की अनुमति भी मिल गई। लेकिन गॉव में मंडी के लिए जगह ना मिलना बड़ा रोड़ा बन गया था। ग्रामीण जगह को लेकर परेशान थे। इस दौरान गॉव के मधुसुदन ठाकुर सामने आये। उन्होंने किसानों की समस्या को देखते हुए करीब एक एकड़ जमीन दान करने का फैसला लिया। यहां बताना लाजमी होगा कि मधुसुदन ठाकुर एक रिटायर वन अधिकारी है। किसान हित को देखते हुए मधुसुदन ठाकुर और उनकी पत्नी सावित्री ठाकुर के द्वारा लिए गए निर्णय का तीन गॉव के ग्रामीण भूरी भूरी प्रशंसा कर रहे है।

Advertisement

ताज़ा खबरे

Video News

NEWS

error: \"छत्तीसगढ़ 24 न्यूज़\" के कंटेंट को कॉपी करना अपराध है।