कलेक्टर ने छ.ग. सामाजिक-आर्थिक सर्वेक्षण की तैयारी हेतु विभागीय अधिकारियों की ली बैठक

खैरागढ़ : छत्तीसगढ़ सामाजिक-आर्थिक सर्वेक्षण 2023 के संबंध में कलेक्टर डॉ जगदीश सोनकर ने छत्तीसगढ शासन के मार्गदर्शी निर्देशन में सर्व विभाग की बैठक ली। सर्वेक्षण कार्य 1 से 30 अप्रैल 2023 तक प्रस्तावित है। जिला स्तर पर जिला कलेक्टर, नोडल अधिकारी तथा मुख्य कार्यपालन अधिकारी जिला पंचायत, सहायक नोडल अधिकारी होंगे। सर्वे का एप में ऑनलाइन एंट्री होगा। प्रगणक के रूप में शिक्षक, रोजगार सहायक एवं आंगनबाड़ी कार्यकर्ताओं और पर्यवेक्षक संकुल समन्वयक की ड्यूटी लगाने के निर्देश दिए।

“अधिकारी इस बात पर ध्यान दे कि सर्वे में कोई भी परिवार छूटने न पाये”- डॉ.जगदीश सोनकर

केसीजी कलेक्टर डॉ जगदीश सोनकर ने बैठक में निर्देश देते हुए कहा कि छत्तीसगढ़ सामाजिक-आर्थिक सर्वेक्षण 2023 महत्वपूर्ण कार्य है, अधिकारी इस बात पर ध्यान दे कि सर्वे में कोई भी परिवार छूटने न पाये। उन्होंने कहा कि सभी प्रगणक एवं सुपरवाईजर को गुणवत्तापूर्ण प्रशिक्षण दिया जाना सुनिश्चित करें। इसके लिए मास्टर ट्रेनर्स द्वारा उन्हें प्रशिक्षित करें।

सहयोग के लिए टैक्निीकल टीम भी रहे। जिला कार्यालय में इसके लिए एक कंट्रोल रूम बनाकर उपयुक्त लोगों की ड्यूटी लगाएं तथा उन्हें अच्छी तरह से प्रशिक्षित करें। उन्होंने इसके लिए तत्काल कार्य करने के निर्देश दिए। उन्होंने कहा कि इसके लिए आवश्यक कार्य योजना बनाते हुए प्रशिक्षण की गुणवत्ता पर विशेष ध्यान देते हुए कार्य करें। सर्वे में राशन कार्ड परिवार की इकाई की होगी। एप में फ़ोटो, आधार, आवास और शौचालय को करेंगे अपलोड।

सर्वेक्षण में जिला के सभी परिवार शामिल हो, पात्र परिवार शासकीय योजनाओं का ले सकेंगे लाभ”- कलेक्टर

केसीजी कलेक्टर डॉ. जगदीश सोनकर ने लोगो के कहा कि सर्वेक्षण में जिला के सभी परिवार शामिल हो, पात्र परिवार शासकीय योजनाओं का लाभ ले सकेंगे। सर्वे में पिछले 12 वर्षों की अवधि में केंद्र और राज्य सरकार की विभिन्न विकास एवं हितग्राही मूलक योजनाओं के क्रियान्वयन से ग्रामीण परिवारों के आर्थिक-सामाजिक जीवन में हुए प्रभावों की जानकारी एकत्रित की जाएगी। इससे भावी योजनाओं और नीतियों के निर्माण में सहायता मिलेगी और चिन्हित पात्र परिवारों को शासकीय योजनाओं का लाभ दिलाने में मदद मिलेगी। जिले में निवासरत ग्रामीण परिवारों का सर्वेक्षण कार्य 30 अप्रैल तक पूर्ण किया जाना है।

सर्वे के एप में होगा ऑनलाइन एंट्री

प्रत्येक ग्राम पंचायत के लिए एक प्रगणक दल बनेगा, जिसमे एक महिला सदस्य और एक पुरुष सदस्य शामिल होंगे l ऐसे ग्राम पंचायत जहां परिवारो की संख्या अधिक हो वहां एक से अधिक प्रगणक दल का गठन किया जा सकेगा। दल के किसी एक सदस्य के पास *Android Smartphone* होना अनिवार्य है। जिसमे App के माध्यम से डाटा एंट्री किया जाना है। जिस ग्राम पंचायत में इंटरनेट कनेक्टिविटी की समस्या होगी, उस ग्राम पंचायत में App में डाटा एंट्री का कार्य ऑफलाइन किया जाएगा तथा इंटरनेट कनेक्टिविटी उपल्ब्ध होने पश्चात डाटा को ऑनलाइन सिंक किया जाएगा।

एक टीम लगभग 400 परिवार का करेंगे सर्वे, 750 परिवार के लिए दो टीम का होगा गठन

यदि किसी कारण से App में किसी प्रकार की समस्या आती है या एंट्री नहीं हो पाती है तो उस स्थिति में डाटा इंट्री का कार्य प्रपत्र में भरकर किया जाएगा। साथ ही टेक्निकल टीम को समस्या से अवगत कराते हुए समस्या का समाधान पूछ कर App में एंट्री का कार्य करना अनिवार्य होगा। सर्वे करते समय प्रगणक किसी भी मकान का फोटो खींचे तो उसमें मुखिया और मकान का नंबर स्पष्ट दिखना चाहिए।

सर्वे दौरान मुखिया का फोटो आवास, शौचालय एवम् आधार कार्ड, App में अपलोड किया जाना है। एक परिवार को एक प्रपत्र भरना होगा। प्रपत्र में आधारभूत जानकारी प्रविष्टि करनी है। एक टीम लगभग 400 घरों का सर्वे करेंगे। लगभग 750 के घरों के लिए दो टीम सर्वे का काम करेंगे। यदि कोई परिवार सर्वेक्षण में भाग नहीं लेना चाहता या जानकारी नही देना चाहता उस स्थिति में इस आशय का प्रमाण पत्र उससे लेना आवश्यक होगा।

सर्वेक्षण 1 से 30 अप्रैल 2023 से तक है प्रस्तावित, सभी मुख्यालय में रहेंगे, अवकाश पर रहेगा प्रतिबंध

छत्तीसगढ़ सामाजिक आर्थिक सर्वेक्षण 2023 दिनांक 1 अप्रैल 2023 से प्रारंभ होना प्रस्तावित है। सर्वेक्षण से संबंधित जानकारी समय सीमा में भेजने हेतु अधिकारियों को मुख्यालय में रहना अनिवार्य है। जिले में कार्यरत समस्त अधिकारियों को निर्देशित किया जाता है कि सर्वेक्षण सत्र के दौरान कोई भी अधिकारी एवं कर्मचारी कलेक्टर डॉ जगदीश सोनकर की अनुमति बिना अवकाश पर नहीं जावेंगे न ही मुख्यालय से बाहर रहेंगे।

समस्त अधिकारीगण अपने कार्यालय में एक नोडल अधिकारी नियुक्त कर समस्त कर्मचारियों नाम, पदनाम एवं मोबाइल नंबर कार्यालय कलेक्टर जिला खैरागढ़ छुईखदान गंडई को तत्काल भेजे। कार्यालयीन दिवस के अतिरिक्त अवकाश के दिनों में भी पर्याप्त लिपिक एवं भृत्य की ड्यूटी लगाना सुनिश्चित किया जावे। उपरोक्त निर्देशों का कड़ाई से पालन किया जाना सुनिश्चित करेंगे।

Advertisement

ताज़ा खबरे

Video News

NEWS

error: \"छत्तीसगढ़ 24 न्यूज़\" के कंटेंट को कॉपी करना अपराध है।