विधायक पुत्र की शोकसभा में देवारीभाठ पहुँचें मुख्यमंत्री भूपेश बघेल

खैरागढ़ : विधायक यशोदा वर्मा के पुत्र प्रवीण की सड़क दुर्घटना में मौत के बाद सांत्वना देने पहुँचें मुख्यमंत्री भूपेश बघेल के सामनें माँ यशोदा बिलख पड़ी । पूत्र की मौत के बाद से बेसुध पड़ी मां यशोदा वर्मा की सिसकिया नही रूक पाई है। 19 फरवरी को सड़क दुर्घटना में गंभीर रूप से घायल विधायक यशोदा वर्मा के पुत्र प्रवीण की रामकृष्ण केयर अस्पताल में 36 दिन चले इलाज के बाद मौत हो गई थी । शनिवार को शोक कार्यक्रम में विधायक के गृह ग्राम पहुँचें मुख्यमंत्री भूपेश बघेल के पहुँचते ही विधायक यशोदा विलख पड़ी।



सीएम बघेल ने इस दौरान विधायक यशोदा सहित परिवार को ढांढस बंधाया। सिर पर हाथ फेरा और सांत्वना देते कहा कि दूख की घड़ी में पूरा कांग्रेस परिवार यशोदा वर्मा के दूख में सहभागी है । देवारी भाठ में शोक सभा में पहुँचे मुख्यमंत्री ने मृतक प्रवीण वर्मा पर पुष्प अर्पित कर श्रद्धाजलि दी फिर सीधे विधायक यशोदा के पास पहुंचें और उनके सिर पर हाथ फेर ढांढस बंधाया।



शोकसभा को संबोधित करते मुख्यमंत्री भूपेश बघेल ने कहा कि दूखद क्षण में संबल बनाए रखना जरूरी है। विधायक पुत्र प्रवीण की दूर्घटना के बाद बचाने का हर तरह से प्रयास किया गया । लेकिन विधि के विधान के आगे सब नतमस्तक है । बघेल ने कहा कि पिता के कंधे पर बेटे की अर्थी निकली यह दूख सबसे बड़ा है। दूख बाटने के लिए समाज परिवार और प्रदेश के लोग आए है। दुख बांटने से घटता है। बेटे की अर्थी निकली यह दूख सबसे बड़ा है ।



विधायक पुत्र की शोकसभा में देवारीभाठ पहुँचें मुख्यमंत्री भूपेश बघेल

दूख बांटने के लिए समाज परिवार और प्रदेश के लोग आए है । दूख बांटने से घटना है । बघेल ने कहा कि जन्म के बाद मौत निश्चित होती है । मधुर स्मृतियों को संजोकर रखने से आगे बेहतर होगा । बघेल ने विधायक परिवार को सांत्वना देते कहा कि उन्होने अपना पुत्र नहीं खोया है बल्कि होनहार यूवा को खो दिया है । इस दूख को कोई खत्म नहीं कर सकता पीड़ा दायक समय में ढांढस और संयम के साथ परिवार को इस दूख को सहने ईश्वर सहनशक्ति प्रदान करे ।



इस दौरान प्रभारी मंत्री अमरजीत भगत, खनिज विकास निगम अध्यक्ष गिरीश देवांगन, विधायक इंद्रशाह मंडावी, कुंवर निषाद, अनिता शर्मा, लक्ष्मी ध्रुव, ममता चंद्राकर, भूनेश्वर बघेल, सावित्री मंडावी, तेंजकुंवर नेताम, सहित बड़ी संख्या में जनप्रतिनिधिगण, अधिकारी जिला प्रशासन मौजूद रहा।

मुख्यमंत्री ने मुखिया की तरह निभाया साथ, तन मन धन से किया सहयोग



मुख्यमंत्री के शोक कार्यक्रम से रवाना होने के बाद विधायक परिवार ने पुत्र की दूर्घटना के बाद से इलाज और मौत के बाद लाश का पोस्टमार्टम कराने तक मुख्यमंत्री भूपेश बघेल द्वारा किए गए तन मन धन से सहयोग के लिए कृतज्ञता जताई।

Advertisement

ताज़ा खबरे

Video News

NEWS

error: \"छत्तीसगढ़ 24 न्यूज़\" के कंटेंट को कॉपी करना अपराध है।