हादसे में ‘माँ-बाप’ को खो चुकी अन्नू देवांगन को छत्तीसगढ़ सरकार ने लिया गोद

संतोष देवांगन/रायपुर : कुम्हारी निर्माणाधीन ओवर ब्रिज हादसे में अनाथ हो गई बच्ची को (C.G. GOVT.) छत्तीसगढ़ सरकार ने गोद लिया है। मुख्यमंत्री भूपेश बघेल ने ट्वीट कर यह जानकारी दी और लिखा – इस दुखद घटना में अनाथ हुई बच्ची अब हम सबकी जिम्मेदारी है। हमने इस बच्ची को गोद लेने का निर्णय लिया है। बच्ची की समस्त जिम्मेदारी अब सरकार की है।

कुम्हारी निर्माणाधीन फ्लाईओवर हादसे में अपने माँ-बाप को खो चुकी अन्नू देवांगन को उसके परिजनों की उपस्थिति में पंद्रह लाख रुपए का चेक प्रदान किया गया है। कलेक्टर पुष्पेंद्र कुमार मीणा एवं एसपी डा. अभिषेक पल्लव ने यह चेक प्रदान किया। कलेक्टर एवं दुर्ग एसपी ने रायल इंफ्रा कंपनी के अधिकारियों से इस संबंध में चर्चा की थी और उनसे कहा था कि अनुबंध शर्तों के मुताबिक फ्लाइओवर में निर्माण के दौरान सुरक्षा संबंधी जिम्मेदारी कंपनी की थी।

बतादे की कंपनी की लापरवाही के चलते यह दुर्घटना हुई, अतएव बच्ची के भरणपोषण में सहयोग करें, चर्चा में कंपनी ने इसके लिए पंद्रह लाख रुपए देने की बात कही। कंपनी के अधिकारियों ने कलेक्ट्रेट परिसर में पंद्रह लाख रुपए की राशि का चेक दिया। कलेक्टर ने बताया कि इसके ब्याज की राशि से बच्चे के खर्च की व्यवस्था होगी, बालिग होने पर मूलधन बच्ची को मिल जाएगा। साथ ही बच्ची को अच्छे स्कूल में एडमिशन दिलाया जाएगा। प्रशासन लगातार बच्चे के परिजनों के संपर्क में रहेगा।

Advertisement

ताज़ा खबरे

Video News

NEWS

error: \"छत्तीसगढ़ 24 न्यूज़\" के कंटेंट को कॉपी करना अपराध है।