बिन्द्रानवागढ़ विधानसभा, गोवर्धन सिंह मांझी को भाजपा ने दिया तीसरा मौका : जानिये इन्हें…..

किरीट भाई ठक्कर, गरियाबंद : आगामी विधानसभा चुनाव को लेकर भारतीय जनता पार्टी द्वारा प्रत्याशियों की दूसरी सूचि जारी कर दी गई है। तदानुसार जिले की बिन्द्रानवागढ़ विधानसभा सीट से भारतीय जनता पार्टी द्वारा पूर्व विधायक व संसदीय सचिव गोवर्धन सिंह मांझी को अपना प्रत्याशी घोषित किया गया है।

इससे पहले वर्ष 2003 में उन्हें भाजपा ने अपना प्रत्याशी घोषित किया था ,इस चुनाव में गोवर्धन मांझी पराजित हुये थे। दूसरा मौका उन्हें 2013 में दिया गया, जब गोवर्धन मांझी इस सीट से विधायक निर्वाचित हुये थे , ये तीसरा मौका है जब उन्हें इस सीट से भाजपा ने प्रत्याशी घोषित किया है।

लगभग 65 वर्षीय गोवर्धन सिंह मांझी मैनपुर विकास खंड के ग्राम गोहरा पदर निवासी हैं तथा हायर सेकंडरी तक शिक्षित है। गोवर्धन सिंह मांझी ने अपने सार्वजनिक /राजनैतिक जीवन की शुरुवात बतौर सरपंच की थी। वर्ष 1983 से 1993 तक लगातार दो बार सरपंच निर्वाचित हुये थे। 1985 में इन्हें मैनपुर भाजपा मंडल अध्यक्ष की जिम्मेदारी सौपी गई। ये जिला धमतरी में भाजपा के प्रदेश प्रतिनिधि भी रहे , 1995 से 2000 तक जिला पंचायत सदस्य ( रायपुर जिला ) रहे

वर्ष 2002 में इन्हें अनुसूचित जनजाति मोर्चा का जिलाध्यक्ष बनाया गया। वर्ष 2005 से 2008 तक भाजपा के बिंद्रानवागढ़ विधानसभा प्रभारी रहे। वर्ष 2006 से 2008 तक अध्यक्ष ,जिला सहकारी कृषि एवं ग्रामीण बैंक रायपुर के पद पर रहे गोवर्धन सिंह मांझी आदिवासी राज गोंड समाज के भी जिम्मेदार पदों पर अपनी सामाजिक जिम्मेदारीयों का पालन करते रहे हैं।

कालांतर में इन्हें भाजपा प्रदेश कार्य समिति सदस्य बनाया गया था। गोवर्धन सिंह मांझी वर्ष 2013 के विधानसभा चुनाव में बिंद्रानवागढ़ विधानसभा सीट से अपने निकटतम प्रतिद्वंदी कांग्रेस के जनक ध्रुव को पराजित कर विधायक निर्वाचित हुये थे , जिसके बाद उन्हें संसदीय सचिव भी बनाया गया था।

Chhattisgarh24News.Com के व्हाट्सएप चैनल को फॉलो करना न भूलें 👇

 https://whatsapp.com/channel/0029Va4mCdjL7UVLuM2mkj0Q 
"छत्तीसगढ़ 24 न्यूज़" के लिए किरीट ठक्कर की रिपोर्ट
"छत्तीसगढ़ 24 न्यूज़" के लिए किरीट ठक्कर की रिपोर्टhttps://chhattisgarh-24-news.com
किरीट ठक्कर "छत्तीसगढ़ 24 न्यूज़" संवाददाता
ताज़ा खबरे

Video News

NEWS

error: \"छत्तीसगढ़ 24 न्यूज़\" के कंटेंट को कॉपी करना अपराध है।