20 क्विंटल धान बिक्री से प्रसन्नचित है किसान : धान उठाव में अग्रणी बना जिला

किरीट भाई ठक्कर , गरियाबंद। समर्थन मूल्य पर प्रति एकड़ 20 क्विंटल धान खरीदी के सरकारी फैसले से जिले के किसान प्रसन्न है।जिले के विभिन्न उपार्जन केंद्रों में धान खरीदी की रिपोर्टिंग के दौरान उपार्जन केंद्र सोहागपुर सड़क परसूली आमदी ( द) मदनपुर के किसानों ने मीडिया टीम से कहा कि अब उन्हें बिचौलियों कोचियों को धान बेचने की आवश्यकता नही होगी। गुटकु नवापारा के किसान पालेश्वर ध्रुव ने कहा कि प्रदेश में फिर से भूपेश बघेल की सरकार बननी चाहिए। ग्राम रावनसिंघी के किसान बलभद्र ठाकुर ने कहा कि आज वे अपना 32 क्विंटल धान बेचने सड़क परसूली उपार्जन केंद्र आये हैं। उपार्जन केंद्र सोहागपुर में धान खरीदी के प्राप्त विवरण के अनुसार दिनांक 29 नवम्बर 2023 तक की स्थिति में मोटा पतला दोनों क्वालिटी मिलाकर 8091.60 क्विंटल धान खरीद चुके हैं। इसी तरह आदिम जाति सेवा सहकारी समिति सड़क परसूली में 29 नवम्बर की स्थिति में दोनों क्वालिटी मिलाकर 3827. 60 क्विंटल धान की खरीदी हो चुकी है।

युवा वर्ग का किसानी के प्रति बढ़ा रुझान

विकास खंड गरियाबंद के ग्राम रावनसिंघी के प्रीत कुमार साहू ,ग्राम खरहरी के मिंटू सिन्हा जैसे नौजवानों ने मीडिया टीम से कहा कि 10 वीं 12वीं तक पढ़ाई करने के बाद अब वें किसानी ही करना चाहते हैं। प्रीत कुमार ने कहा कि अपनी कुछ एकड़ जमीन के अलावा हम रेग में खेत ले कर किसानी को विस्तार दे सकते हैं। धान के अलावा अन्य फसलों के मुद्दे पर प्रीत ने कहा कि मूंग की फसल ली जा सकती है किंतु धान की फसल की कटाई मिंजाई के वक्त ही मूँग का उत्पादन शुरू हो जाता है जिससे रखवाली में परेशानी होती है। थोड़ा बहुत गेंहू का उत्पादन उनके द्वारा किया जाता है।

जिले के 15 हजार से अधिक किसानों ने 126 करोड़ रूपए से अधिक का बेचा धान : धान का उठाव भी लगातार जारी

खरीफ विपणन वर्ष 2023-24 अंतर्गत गरियाबंद जिले की 67 समितियों के उपार्जन केन्द्रों में धान की लगातार आवक बनी हुई है। अब तक जिले के कुल 15 हजार 174 किसान कुल 57 हजार 842 मेट्रिक टन धान सहकारी समितियों में बेच चुके है। इस प्रकार समितियों द्वारा 126 करोड़ 50 लाख रूपये का धान खरीदी कर लिया गया है। धान बेचने वाले किसानों के बैंक खाते में 48 घंटे के अंदर राशि अंतरित कर दी जाती है। धान खरीदी के साथ धान का उठाव भी लगातार जारी है। गरियाबंद जिले के अब तक के कुल उपार्जित धान 57 हजार 842 मेट्रिक टन में से 31 हजार 491 मेट्रिक टन धान जिले के पंजीकृत मिलर्स द्वारा उठाव कर लिया गया है। गरियाबंद जिला कुल उपार्जित धान के 54 प्रतिशत धान का उठाव कर प्रदेश में अग्रणी स्थान पर है।
जिला विपणन अधिकारी अमित चन्द्राकर ने बताया कि खरीफ विपणन वर्ष 2023-24 के धान उठाव के एवज मे जिला गरियाबंद के कस्टम मिलिंग कर 1825.29 मेट्रिक टन चॉवल नागरिक आपूर्ति निगम मे जमा कराया गया है। जो कि चावल जमा के आधार पर प्रदेश में प्रथम है।

Chhattisgarh24News.Com के व्हाट्सएप चैनल को फॉलो करना न भूलें 👇

 https://whatsapp.com/channel/0029Va4mCdjL7UVLuM2mkj0Q 
"छत्तीसगढ़ 24 न्यूज़" के लिए किरीट ठक्कर की रिपोर्ट
"छत्तीसगढ़ 24 न्यूज़" के लिए किरीट ठक्कर की रिपोर्टhttps://chhattisgarh-24-news.com
किरीट ठक्कर "छत्तीसगढ़ 24 न्यूज़" संवाददाता
ताज़ा खबरे

Video News

NEWS

error: \"छत्तीसगढ़ 24 न्यूज़\" के कंटेंट को कॉपी करना अपराध है।