स्वास्थ्य विभाग के अधिकारियों कर्मचारियों की अनिश्चित कालीन हड़ताल

किरीट भाई ठक्कर , गरियाबंद। छत्तीसगढ़ स्वास्थ्य फेडरेशन के बैनर तले जिले के स्वास्थ्य विभाग के अधिकारी कर्मचारी अनिश्चित कालीन हड़ताल पर बैठ गये है। अपनी पांच सूत्रीय मांगों को लेकर स्वास्थ्य विभाग के अधिकारी कर्मचारियों द्वारा फेडरेशन के माध्यम से मुख्यमंत्री के नाम पत्र जारी किया गया है।

जिसके अनुसार स्वास्थ्य विभाग में कार्यरत एएनएम / एमपीडब्ल्यू , नर्सिंग संवर्ग एवं चिकित्सकों द्वारा अपनी मांगों के संबंध में अनेक बार पत्राचार किया गया किन्तु शासन प्रशासन द्वारा लगातार नजर अंदाज किया जाता रहा है। अनुपूरक बजट में भी स्वास्थ्य विभाग के कर्मचारियों अधिकारियों की उपेक्षा की गई है। इस उपेक्षा से नाराज स्वास्थ्य कर्मियों द्वारा अनिश्चित कालीन हड़ताल का निर्णय लिया गया है।

स्वास्थ्य विभाग के हड़ताली अधिकारियों कर्मचारियों द्वारा वेतन विसंगति, कोविड इनसेंटिव के साथ साथ अतिरिक्त कार्य दिवस, अर्थात अवकाश के दिनों का भी भुगतान किये जाने की मांग की गई है, इस मांग के अनुसार , स्वास्थ्य कर्मी राष्ट्रीय एवं स्थानीय अवकाश के दिनों, साथ ही साप्ताहिक अवकाश के दिनों में भी अपनी सेवायें देते हैं। जबकि अन्य विभागों में अवकाश होता है। चिकित्सकिय अमले द्वारा अन्य विभागों की तुलना में ,वर्ष में 132 दिनों अधिक कार्य किया जाता है। जिसका अतिरिक्त भुगतान प्रोत्साहन राशि के रूप में मिलना चाहिये।

आईपीएचएस सेटअप की स्वीकृति एवं भर्ती

एक तरफ जहां मरीजों की बढ़ती संख्या तथा राष्ट्रीय स्वास्थ्य कार्यक्रमों एवं योजनाओं में वृद्धि के साथ साथ नागरिकों को दी जाने वाली स्वास्थ्य सुविधाओं में इजाफ़ा हुआ है वही दूसरी ओर हेल्थ सेटअप रिवाइज नही किया गया है , जिसके कारण स्वास्थ्य विभाग के कर्मचारियों अधिकारियों पर कार्य का अतिरिक्त बोझ है। फेडरेशन की चौथी मांग के अनुसार शीघ्र ही आईपीएचएस सेटअप की स्वीकृति एवं भर्ती की जानी चाहिये।

चिकित्सकिय कार्य के दौरान लगातार हिंसा की घटनाओं में वृद्धि हो रही है जिससे स्वास्थ्य अमला भयभीत है। स्वास्थ्य कर्मियों पर ड्यूटी के दौरान हिंसात्मक हमलों / घटनाओं पर रोक लगाने यथा संभव प्रयास किये जायें।

"छत्तीसगढ़ 24 न्यूज़" के लिए किरीट ठक्कर की रिपोर्ट
"छत्तीसगढ़ 24 न्यूज़" के लिए किरीट ठक्कर की रिपोर्टhttps://chhattisgarh-24-news.com
किरीट ठक्कर "छत्तीसगढ़ 24 न्यूज़" संवाददाता

Advertisement

ताज़ा खबरे

Video News

NEWS

error: \"छत्तीसगढ़ 24 न्यूज़\" के कंटेंट को कॉपी करना अपराध है।