वादे निभाने के कारण सीएम भूपेश बघेल देश के नंबर 1 मुख्यमंत्री /राजेंद्र साहू

 

साव के बयान पर पीसीसी महामंत्री ने किया पलटवार : सीएम नहीं पीएम मोदी हैं घोषणावीर : आगामी चुनाव में प्रदेश की जनता देगी भाजपा नेताओं की छत्तीसगढ़िया विरोधी मानसिकता का जवाब : राजेंद्र साहू

वादे भूलकर जनता को धोखा देने में अव्वल है भाजपा

वादे निभाने के कारण सीएम भूपेश बघेल देश के नंबर 1 मुख्यमंत्री

 

पीसीसी महामंत्री राजेंद्र साहू ने प्रदेश भाजपा अध्यक्ष अरुण साव के बयान को हास्यास्पद बताते हुए कहा है कि सीएम भूपेश बघेल नहीं, बल्कि पीएम नरेंद्र मोदी घोषणावीर हैं। मोदी समेत अन्य भाजपा नेताओं ने जनता से लोकलुभावने वादे तो किये, लेकिन उन वादों को कभी भी पूरा नहीं किया।

राजेंद्र ने कहा कि विदेश से काला धन वापस लाने, हर नागरिक के खाते में 15 लाख रुपए जमा करने, महंगाई कम करने, दो करोड़ युवाओं को हर साल रोजगार देने, किसानों की आय दोगुना करने और महिला सुरक्षा जैसे कई वादे किये थे। पूरा देश देख रहा है कि 9 साल में मोदी सरकार ने इन वादों को पूरा नहीं किया। जनता को राहत नहीं दी गई, उलटे मोदी सरकार ने इन समस्याओं को कई गुना बढ़ा दिया।

राजेंद्र ने कहा कि सीएम भूपेश बघेल ने जितने वादे किये हैं, चार साढ़े साल के कार्यकाल में लगभग सभी वादे पूरे कर दिये। किसानों की कर्जमाफी, सिंचाई कर की माफी, किसानों को धान का सबसे ज्यादा मूल्य 2640 रुपए देने, हाफ बिजली बिल, 2500 रुपए बेरोजगारी भत्ता, दो रुपए किलो की दर से गोबर खरीदी, आधुनिक शिक्षण व्यवस्था के साथ नए स्कूल-कालेज, स्वास्थ्य सुविधा में अभूतपूर्व विस्तार, हाट बाजार क्लीनिक, मोबाइल क्लीनिक, महिला समूहों और युवाओं को रीपा के माध्यम से रोजगार देकर न सिर्फ वादों को पूरा किया, बल्कि प्रदेश की जनता को नित नई सौगातें भी दी।

राजेंद्र ने कहा कि प्रदेश भाजपा अध्यक्ष अरुण साव को याद रखना चाहिए कि रमन सिंह के वादे 15 साल के शासनकाल में भी पूरे नहीं हुए। प्रदेश भाजपा अध्यक्ष व सांसद अरुण साव को खुद का रिपोर्ट कार्ड भी देखना चाहिए। छत्तीसगढ़ से गुजरने वाली सैकड़ों ट्रेनें बार-बार रद्द हो रही हैं। बिलासपुर एयरपोर्ट बंद कर दिया गया है। यात्री हलाकान हैं। इसके बावजूद बिलासपुर के सांसद अरुण साव समेत भाजपा के 9 लोकसभा सांसद और एक राज्यसभा सांसद हाथ पर हाथ धरे बैठे हैं। साव समेत सभी भाजपा सांसदों ने आम जनता को राहत देने के लिए कुछ नहीं किया।

राजेंद्र ने कहा कि छत्तीसगढ़ में राज्य की परंपरा-संस्कृति के संरक्षण के लिए भूपेश सरकार ने अभिनव प्रयास किये हैं। कर्मा जयंती, हरेली, विश्व आदिवासी दिवस, तीजा जैसे पर्व पर अवकाश भी घोषित किया गया। भूपेश बघेल द्वारा छत्तीसगढ़ की परंपरा, संस्कृति को बढ़ावा देने पर साव जैसे वरिष्ठ सांसद की बयानबाजी शर्मनाक है। छत्तीसगढ़ की जनता भाजपा नेताओं की छत्तीसगढ़िया विरोधी मानसिकता को देख-समझ रही है। विधानसभा चुनाव में आम जनता भाजपा नेताओं को इसका जवाब देगी।

KARAN SAHU
KARAN SAHU
करन साहू कार्यक्षेत्र - पाटन ( छ.ग. ) "छत्तीसगढ़ 24 न्यूज़"

Advertisement

ताज़ा खबरे

Video News

NEWS

error: \"छत्तीसगढ़ 24 न्यूज़\" के कंटेंट को कॉपी करना अपराध है।