मुख्यमन्त्री श्री भूपेश बघेल ने जिलेवासियों को दिए 104 करोड़ रुपए की सौगात रायपुर से किया वर्चुअल लोकार्पण-भूमिपूजन जिला अस्पताल में हुई सीटी स्कैन की सुविधा ’चिटफंड के पीड़ित निवेशधारियों की रकम हुई वापसी सीएम सचमुच गरीबों का मसीहा व पालनहार है- उर्मिला

मुख्यमन्त्री श्री भूपेश बघेल ने जिलेवासियों को दिए 104 करोड़ रुपए की सौगात
रायपुर से किया वर्चुअल लोकार्पण-भूमिपूजन
जिला अस्पताल में हुई सीटी स्कैन की सुविधा
’चिटफंड के पीड़ित निवेशधारियों की रकम हुई वापसी
सीएम सचमुच गरीबों का मसीहा व पालनहार है- उर्मिला

कोरिया, 26 सितम्बर 2023/जिलेवासियों को आज एक नया उत्साह और उमंग का दिन रहा। बता दें छत्तीसगढ़ के मुख्यमंत्री श्री भूपेश बघेल प्रदेश के विभिन्न जिलों में हो रहे विकास कार्याे का लोकार्पण व भूमिपूजन वर्चुअल के माध्यम से आज किया गया।
वीडियो कांफ्रेंसिंग के माध्यम से हुए इस कार्यक्रम में जिला कोरिया सहित विभिन्न जिलों में भी इसी तरह के लोकार्पण- भूमिपूजन व राशि वितरण कार्यक्रम आयोजित किया गया था। वैसे भी कोरिया जिला अपनी प्राकृतिक सौंदर्य के लिए जाना जाता है। ऐसे में राज्य सरकार ने जिला प्रशासन को अधोसंरचना विकास के लिए सभी आवश्यक कार्यवाही करने के निर्देश दिए थे ताकि यहाँ के लोगों की जरूरतें और मांगो को ध्यान में रखते हुए समय पर सभी आवश्यक कार्य पूरे हो सके।
मुख्यमंत्री श्री बघेल ने अलग- अलग समय व स्थानों पर जिलेवासियों के लिए कई महत्वपूर्ण घोषणाएं की थीं, जिसका आज लोकार्पण व भूमिपूजन व राशि वितरण किया गया।

आज हुए वीडियो कांफ्रेंसिंग के जरिए 48 करोड़ रुपए के 47 विकास कार्यों का लोकार्पण तथा 55 करोड़ रुपए के 62 विकास कार्यों का भूमिपूजन किया गया। साथ ही 14 निवेशकों द्वारा चिटफंड कंपनियों में किए गए निवेश राशि करीब 38 लाख रुपए की वापसी हुआ।
जिला पंचायत सभागार में आयोजित वीडियो कांफ्रेंसिंग में संसदीय सचिव एवं विधायक बैकुंठपुर श्रीमती अंबिका सिंहदेव, जिला पंचायत के उपाध्यक्ष श्री वेदान्ती तिवारी, वरिष्ठ जनप्रतिधि श्री प्रदीप गुप्ता, कलेक्टर श्री विनय कुमार लंगेह, पुलिस अधीक्षक श्री त्रिलोक बसंल, सीईओ डॉ आशुतोष चतुर्वेदी, संयुक्त कलेक्टर श्री नीलम टोप्पो, एसडीएम श्रीमती अंकिता सोम, डिप्टी कलेक्टर श्री राकेश साहू सहित जिलास्तरीय अधिकारी वीडियो कांफ्रेंसिंग में मौजूद रहे।

आज हुए प्रमुख लोकार्पण कार्याे में लोक निर्माण विभाग द्वारा 8 करोड़ रुपए की लागत से राजौली खोडरी से बदरा 6 कि.मी. लंबी सड़क व पुल- पुलिया निर्माण, पौने तीन करोड़ रुपए की लागत से ग्राम नगर से रटँगा तक दो कि. मी. लंबी सड़क मार्ग, ढाई करोड़ रुपए की लागत से ग्राम खरवत से जमनीपारा, चरचा तक 4 कि.मी सड़क व पुल -पुलिया निर्माण, करीब दो करोड़ रुपए की लागत से गडेरी मोहल्ला से शंकरपुर तक डेढ़ कि. मी.सड़क व पुल-पुलिया निर्माण, 2 करोड़ 70 लाख रुपए की लागत से एन एच 43 से करजी तक 3 कि.मी. पहुंच मार्ग, 2 करोड़ 38 लाख रुपए की लागत से उमझर रेलवे क्रासिंग से बाँधपारा व शिवपुर तक पौने दो कि. मी. सड़क निर्माण, 9 करोड़ रुपए की लागत से विक्रमपुर कर्री पोड़ी तक 7 कि.मी.सड़क निर्माण। प्रधानमंत्री ग्राम सड़क योजना के तहत टी-1 सेवकरजी खालपारा, डोंडपारा बुझर, एल 033 बदरिया से करहीखांड, टी 01 से बिलारो में सड़क निर्माण नगरीय निकाय विभाग द्वारा बैकुण्ठपुर के विभिन्न वार्डों में करीब 60 लाख रुपए की लागत से सीसी रोड व पुल निर्माण कार्य। छत्तीसगढ़ राज्य विधुत बोर्ड द्वारा ग्राम पंचायत सकरिया में 91 लाख रुपए की लागत से नए विधुत सब स्टेशन, उरुमदुग्गा में 13 लाख रुपए की लागत से विद्युतीकरण किया गया। स्वास्थ्य विभाग द्वारा करीब 4 करोड़ रुपए की लागत से जिला चिकित्सालय में सी.टी.स्कैन मशीन, भरतपुर- सोनहत के रामगढ़ में स्थित प्राथमिक स्वास्थ्य केंद्र को सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्र के रूप में उन्नयन किया गया। शिवपुर-चरचा में एक करोड़ रुपए की लागत से स्वामी आत्मानन्द उत्कृष्ट अंग्रेजी स्कूल, एक करोड़ 37 लाख रुपए की लागत से ग्राम पंचायत खरवत में स्वामी आत्मानन्द उत्कृष्ट हिंदी माध्यम स्कूल, बैकुण्ठपुर स्थित स्वामी आत्मानन्द अंग्रेजी-हिंदी स्कूल में दो करोड़ रुपए की लागत से भवन निर्माण व जीर्णाेद्धार कार्य किया गया। इसी तरह करीब तीन करोड़ रुपये की लागत से ग्राम रजौली में जिला सहकारी केंद्रीय बैंक शाखा हेतु भवन, पोड़ी- बचरा में एटीएम की स्थापना, सभी देवगुडी का उन्नयन, कब्रिस्तान हेतु बाउंड्रीवाल, ग्राम बंशीपुर में चेरवा समाज हेतु भवन निर्माण, भादा वॉच टॉवर, बालमगढी पैगौड़ा, चामट पहाड़ का सौंदर्यीकरण। लोक स्वास्थ्य यांत्रिकी विभाग द्वारा तीन करोड़ 14 लाख रुपए की लागत से दुर्गापुर,तिलवनडांड, सुरमी, कचोहर एवं ओरगई में सोलर आधारित नल-जल प्रदाय स्थापित का लोकार्पण हुआ।
इसी तरह माननीय मुख्यमंत्री श्री भूपेश बघेल ने 55 करोड़ रुपए की लागत से 62 विकास कार्यों का भूमिपूजन किया, जिनमें प्रमुख कार्य है लोक निर्माण विभाग द्वारा करीब 4 करोड़ रुपए की लागत से ग्राम नवाटोला से ग्राम देवतीडांड मार्ग में पुल निर्माण, बैकुण्ठपुर में हायर सेकेंडरी स्कूल भवन निर्माण, लाइवलीहुड कॉलेज में 100 सीटर बालक छात्रावास व अधीक्षक भवन।प्रधानमंत्री ग्राम सड़क योजना के तहत 5 करोड़ रुपए से अधिक की लागत से एल-033 से परसापानी, बदरिया से पिपरडांड, एल-032 से नानभान, टी 01 से जुडवनियापारा, टी 02 से मानपुर, खैरी, एल 057 मोदीपारा से दूभापानी, पटना चितमारपारा से पीपरडांड तक करीब 26 कि.मी. सड़कों का नवीनीकरण व संधारण कार्य। तीन करोड़ रुपए की लागत से ग्राम बुडार में नए विद्युत स्टेशन, 15 लाख रुपए की लागत से ग्राम बरदिया, मोदीपारा व मेंद्रकला में सोलर हाई मास्ट संयंत्र स्थापना कार्य। लोक स्वास्थ्य यांत्रिकी विभाग के माध्यम से करीब 15 करोड़ रुपए की लागत से अकलासरई, पाराडोल, बसेर, बंशीपुर, नवाटोला, जिलीबान्ध, करवा, जिल्दा व कन्हारबहरा में एकल ग्राम एवं सोलर आधारित नल-जल प्रदाय योजना का विस्तार। इसके अलावा जलसंसाधन विभाग द्वारा नहर मरम्मत, नगरीय निकाय द्वारा सीसी रोड, नाली निर्माण, शौचालय भवन, सामान्य प्रशासन द्वारा अनेक समाज के लिए सामाजिक भवन आदि स्वीकृत अधोसंरचना का भी भूमिपूजन किया गया।
चिटफंड कंपनी में निवेश राशि की वापसी – जिले के 14 लोगों को चिटफंड कम्पनी श्ग्रीन इंडिया मल्टी स्टेट कम्पनीश् में अपनी पसीने की गाढ़ी कमाई को लगाया था ताकि यह पैसा दोगुना-तिगुने हो सके। लेकिन यह कम्पनी फ्राड निकली और पैसे लेकर फरार हो गए, किंतु भूपेश सरकार ने चिटफंड कम्पनियों के खिलाफ मुहिम चलाया और इसका लाभ पीड़ितो को मिलने लगा। चरचा निवासी श्रीमती उर्मिला को डेढ़ लाख रुपए की वापसी हुई तो चिरमी निवासी श्री बालम साय को उनके खाते में एक लाख रुपए डाले गए। दोनों ने मुख्यमंत्री श्री भूपेश बघेल से बात की और उन्हें धन्यवाद देते हुए कहा कि आप सचमुच गरीबो का मसीहा है, पालनहार हैं। इस तरह 14 पीड़ित निवेशधारियों के 3 लाख 77 हजार रुपए की वापसी हुई।

Chhattisgarh24News.Com के व्हाट्सएप चैनल को फॉलो करना न भूलें 👇

 https://whatsapp.com/channel/0029Va4mCdjL7UVLuM2mkj0Q 
ताज़ा खबरे

Video News

NEWS

error: \"छत्तीसगढ़ 24 न्यूज़\" के कंटेंट को कॉपी करना अपराध है।