भुंजिया विशेष पिछड़ी जनजाति युवा घर पर रस्सी से बंध कर रहने को मजबूर समस्या-मनोज पटेल

✍️छत्तीसगढ़ 24 न्यूज़ जिला संवाददाता विक्रम कुमार नागेश की रिपोर्ट गरियाबंद 

छुरा-गरियाबंद जिले के ग्राम पंचायत कोपेकसा के आश्रित ग्राम सुखरीडबरी का निवासी जो विशेष पिछड़ी भुंजिया जनजाति महेश लगभग 30 वर्षीय जो पांच साल तक तो सामान्य व्यक्ति की तरह रहा, किंतु बीमार पड़ने के बाद दिमागी हालत खराब हो गया,आर्थिक स्थिति खराब होने के कारण समय पर ईलाज नहीं करा पाने से उम्र के साथ-साथ दिमागी हालत और बिगड़ती गयी जिसके कारण उसकी मां अपने ही बच्चा को पिछले बीस सालों से रस्सी में उसे बांधकर रखने को मजबूर हो गई हैं महेश का पिताजी नहीं है माता जी प्रशासन से मदद की आस लगाए बैठी है जो विशेष पिछड़ी भुंजिया जनजाति समाज से आते हैं दिमागी हालत ठीक नहीं है इनकी जानकारी होने पर छुरा नगर रेड क्रॉस संरक्षक सदस्य व समाज सेवी मनोज पटेल मुलाकात करने पहुंचे इस कठिन दौर से गुजर रहे परिवार को शासन प्रशासन से कुछ आर्थिक मदद एवं बच्चे के इलाज हेतु ,शासन प्रशासन से सहयोग की अपील की है

VIKRAM NAGESH
VIKRAM NAGESH
विक्रम कुमार नागेश ( जिला संवाददाता) सैयद बरकत अली (जिला ब्यूरो) कार्यक्षेत्र - गरियाबंद

Advertisement

ताज़ा खबरे

Video News

NEWS

error: \"छत्तीसगढ़ 24 न्यूज़\" के कंटेंट को कॉपी करना अपराध है।