*भाजपा के कार्यकाल में पारित 2014 के प्रस्ताव को निरस्त करने CM से की माँग : रानी विभा सिंह*

*➡️ संगीत विश्वविद्यालय का खैरागढ़ से जाना बर्दास्त नहीं करेगी यहाँ की जनता*

*खैरागढ़।*  खैरागढ़ इंदिरा कला संगीत विश्वविद्यालय के मामले ने अब तूल पकड़ लिया है इसी बीच खैरागढ़ राज परिवार से दिवंगत राजा देवव्रत सिंह की पत्नी रानी विभा सिंह का भी इस मामले को लेकर बड़ा बयान आ गया है। रानी विभा सिंह का कहना है कि खैरागढ़ संगीत विश्वविद्यालय कॉंग्रेस पार्टी की ही देन है। वर्तमान में जिस तरह का माहौल व्याप्त है उसे लेकर हम भी चिंतित है। खैरागढ़ की जनता की जनभावनाओं के अनुरूप विश्वविद्यालय यहाँ से नहीं जाना चाहिए। मैं रानी विभा देवव्रत सिंह कमल विलास पैलेस से माननीय मुख्यमंत्री भूपेश बघेल जी से यह निवेदन करते हुए मांग करती हूँ कि इंदिरा कला संगीत विश्वविद्यालय खैरागढ़ का विखण्डन न किया जाए और छत्तीसगढ़ उच्च शिक्षा विभाग द्वारा दिए गए स्थगन के आदेश पत्र को संशोधित करते हुए पुनः कैंपस ऑफ स्टडी को बन्द करने का आदेश पत्र जारी करवाया जाए। विश्वविद्यालय से हमारे परिवार तथा खैरागढ़ की आम जनता की गहरी संवेदनाएं जुड़ी हुई हैं,  साथ ही खैरागढ़ के छोटे छोटे व्यवसाइयों का व्यवसाय भी विश्वविद्यालय पर निर्भर है। नवगठित जिला के विकास तथा जनाक्रोश को ध्यान में रखते हुए इस मामले पर खैरागढ़ के हित को ध्यान में रख कर स्प्ष्ट निर्णय लिया जाए न कि भ्रम की स्तिथि उतपन्न करे। खैरागढ़ में स्तिथ छोटे-बड़े   एवं अधिकतर विश्वविद्यालय के समीप संचालित खाद्य पदार्थो का व्यवसाय करने वाले आमजन का जीवन व्यापन उक्त विश्विद्यालय के कारण ही चल रहा है। इसके विखण्डन होने से इनके रोजगार पर गहरा असर पड़ेगा।

राजनंदगांव से दीपक साहू

Chhattisgarh24News.Com के व्हाट्सएप चैनल को फॉलो करना न भूलें 👇

 https://whatsapp.com/channel/0029Va4mCdjL7UVLuM2mkj0Q 
ताज़ा खबरे

Video News

NEWS

error: \"छत्तीसगढ़ 24 न्यूज़\" के कंटेंट को कॉपी करना अपराध है।