बस्तर दशहरा पर्व में शामिल होने का मुख्यमंत्री को दिया न्यौता

बस्तर दशहरा पर्व-2021 में शामिल होने बस्तर दशहरा समिति के प्रतिनिधिमंडल ने की मुख्यमंत्री श्री बघेल से सौजन्य मुलाक़ात

मुख्यमंत्री श्री भूपेश बघेल से उनके निवास कार्यालय में बस्तर सांसद व बस्तर दशहरा समिति के अध्यक्ष श्री दीपक बैज के नेतृत्व में आये बस्तर दशहरा समिति के सदस्यों ने सौजन्य मुलाक़ात की। प्रतिनिधिमंडल ने बस्तर दशहरा पर्व-2021 में शामिल होने के लिए मुख्यमंत्री को न्यौता दिया। मुख्यमंत्री ने दशहरा पर्व के आमंत्रण के लिए समिति के पदाधिकारियों को धन्यवाद दिया।

प्रतिनिधिमंडल ने मुख्यमंत्री को बताया कि 75 दिनों तक चलने वाला यह पर्व हरेली अमावस्या से लेकर अश्विन शुक्ल पक्ष के 13वें दिन तक मनाया जाता है। इस वर्ष 8 अगस्त को पाटजात्रा पूजा विधान के साथ इस पर्व की शुरुआत हो चुकी है। वर्तमान में रथ का निर्माण चल रहा है। 6 अक्टूबर को काछनगादी पूजा, 8 अक्टूबर से प्रतिदिन नवरात्र पूजा व रथ परिक्रमा पूजा विधान, 12 अक्टूबर को बेल पूजा तथा 19 अक्टूबर को मावली माता एवं श्री दंतेश्वरी माई की विदाई पूजा विधान से सम्पन्न होगा।

बस्तर दशहरा पर्व बस्तर की समृद्ध सांस्कृतिक परम्परा व सामजिक समरसता का प्रतीक है। चालुक्य नरेश पुरुषोत्तम देव द्वारा पुरी के जगन्नाथ मंदिर जाकर रथपति की उपाधि के साथ वापस लौटने के प्रतीक स्वरूप रथ उत्सव गोंचा व दशहरा का आयोजन किया गया था। सांसद श्री दीपक बैज ने कहा कि वर्ष भी दशहरा पर्व का कोविड प्रोटोकॉल के तहत आयोजन किया जा रहा है। इस अवसर पर बस्तर दशहरा समिति के उपाध्यक्ष श्री अर्जुन कर्मा, श्री बलराम मांझी, श्री प्रेम मांझी, श्री पदम चालकी, श्री बोलो चालकी, श्री सतीश मिश्रा सहित अन्य लोग उपस्थित थे।

Advertisement

ताज़ा खबरे

Video News

NEWS

error: \"छत्तीसगढ़ 24 न्यूज़\" के कंटेंट को कॉपी करना अपराध है।