छत्तीसगढ़ की पारंपरिक त्योहार करमा पूजा धूमधाम से मनाया गया

छत्तीसगढ़ की पारंपरिक त्योहार करमा पूजा धूमधाम से मनाया गया

कोरिया/जिला मुख्यालय बैकुंठपुर ग्राम पंचायत तरगवा में उपवास रहकर बैकुंठपुर विधायक एवं संसदीय सचिव अंबिका सिंह देव के द्वारा छत्तीसगढ़ की पारंपरिक त्योहार करमा बड़े ही धूमधाम से मनाया गया है इस दिन राज्य शासन के द्वारा सार्वजनिक अवकाश की घोषणा रहती है अवकाश होने के कारण यह त्यौहार और ही महत्वपूर्ण हो जाता है विशेष रूप से करमा पर्व सितंबर

के आसपास भादो के एकादशी को यह पर्व मनाया जाता है।भाई एवं परिवार की सुख समृद्धि के लिए गांव भर की बहने उपवास करती है।यह पर्व झारखंड के आदिवासी मूलवासी सभी मिलकर मनाते हैं। कर्मा झारखंड के आदिवासियों का एक प्रमुख त्योहार है। इस मौके पर पूजा करके आदिवासी अच्छे फसल की कामना करते हैं।साथ ही बहनें अपने भाइयों की सलामती के लिए प्रार्थना करती है। करमा के अवसर पर पूजा प्रक्रिया पूरा होने के बाद झारखंड के आदिवासी मूलवासी ढोल मांदर और नगाड़ा के थाप पर झूमते है एवं सामूहिक नृत्य करते हैं।

यह पर्व सभी लोगों के लिए परंपरा की रक्षा के साथ-साथ मनोरंजन का भी एक अच्छा साधन है जहां पुरुष रात में पेय पदार्थों का सेवन कर पूरी रात नाचते गाते हैं और यह दृश्य देखना भी आंखों को सुकून देती है। यह पर्व छत्तीसगढ़ के साथ-साथ अन्य राज्यों से झारखंड मध्य प्रदेश उड़ीसा एवं बंगाल के आदिवासियों के द्वारा भी

धूमधाम से मनाया जाता है। इस अवसर पर जिला कांग्रेस कमेटी अध्यक्ष प्रदीप गुप्ता,पूर्व नगरपालिका अध्यक्ष अशोक जायसवाल,कृषि मार्केटिंग अध्यक्ष बृजवासी तिवारी,बिहारी लाल राजवाड़े, कमलाकांत साहू,विकास श्रीवास्तव,धीरज सिंह,चिंटू खान, रामधन देवांगन,सोहन स्वामी,सरपंच,पटेल,सहित भारी संख्या में ग्रामीण उपस्थित रहे

Chhattisgarh24News.Com के व्हाट्सएप चैनल को फॉलो करना न भूलें 👇

 https://whatsapp.com/channel/0029Va4mCdjL7UVLuM2mkj0Q 
ताज़ा खबरे

Video News

NEWS

error: \"छत्तीसगढ़ 24 न्यूज़\" के कंटेंट को कॉपी करना अपराध है।