अप्रैल से मिलेगा राशन दुकानों में फोर्टिफाइड चावल

फोर्टिफाइड चावल को प्लास्टिक चावल ना समझें , फोर्टिफिकेशन का अर्थ तकनीक के माध्यम से खाने में विटामिन एवं खनिज तत्व के स्तर को बढ़ाना है।

गरियाबंद । जिले में 01 अप्रैल 2023 से समस्त शासकीय उचित मूल्य दुकानों के माध्यम से फोर्टिफाइड चावल मिलेगा। वर्तमान में मध्यान्ह भोजन एवं पूरक पोषण आहार के लिए ही फोर्टिफाइड चावल दिया जा रहा है, परंतु माह अप्रैल, 2023 से समस्त राशनकार्डधारियों को फोर्टिफाइड चावल वितरीत किया जायेगा। एपीएल परिवारों को उक्त सुविधा प्राप्त नहीं होगी। छत्तीसगढ़ में महिलाओं एवं बच्चों में रक्त अल्पता की स्थिति को देखते हुए शासन ने अप्रैल से सभी उचित मूल्य दुकानों के माध्यम से फोर्टिफाइड चावल वितरीत किए जाने का निर्णय लिया है। फोर्टिफाइड चावल में विटामिन बी.12, फॉलिक एसिड एवं लौह तत्व मिश्रित किया जाता है, जिससे उसके सेवन से रक्त अल्पता की समस्या दूर हो सके।

प्लास्टिक चावल ना समझें

खाद्य अधिकारी सुधीरचन्द्र गुरू ने समस्त राशनकार्डधारी परिवारों से अपील की है कि वे इसे प्लास्टिक चावल न समझे तथा निःसंकोच लें एवं सेवन करें, जिससे रक्त अल्पता की समस्या से छुटकारा मिल सके।

खाद्य अधिकारी गुरू ने फोर्टिफाइड चावल के संबंध में बताया कि विश्व खाद्य संगठन के अनुसार फोर्टिफिकेशन का अर्थ तकनीक के माध्यम से खाने में विटामिन एवं खनिज तत्व के स्तर को बढ़ाना है। आहार में पोषक तत्वों की कमी को दूर करने के लिए ऐसा किया जाता है। खाद्यान्न की मिलिंग एवं पालिशिंग के समय पोषक के सूक्ष्म तत्व नष्ट हो जाते हैं, जिससे पोषण की मात्रा कम हो जाती है। फोर्टिफिकेशन से खाद्यान्न पुनः पौष्टिक हो जाता है। सामान्य चावल का पाउडर बनाकर उसमें फॉलिक एसिड, विटामिन बी 12 एवं आयरन खाद्य सुरक्षा के मानकों के अनुसार मिलाते हैं। चावल का पाउडर व मिटामिन एवं मिनरल के मिश्रण को मशीन से तैयार कर चावल के दानों, फोर्टिफाइड राइस कर्नेल एफआरके को निकाला जाता है। एक दाने को सामान्य चावल के 100 दानों में मिलाया जाता है। फोर्टिफाइड चावल में महत्वपूर्ण पोषक गुण होते हैं। आयरन रक्त अल्पता से बचाता है। फॉलिक एसिड खून बनने में सहायक होता है तथा विटामिन बी-12 बुद्धि के सामान्य कामकाज में सहायता करती है। छत्तीसगढ़ में 60 प्रतिशत से अधिक जनसंख्या का मुख्य आहार चावल है अर्थात चावल ऊर्जा का मुख्य स्त्रोत है, इसलिए कुपोषण से लड़ने के लिए चावल का फोर्टिफिकेशन एक महत्वपूर्ण रणनीति है।

"छत्तीसगढ़ 24 न्यूज़" के लिए किरीट ठक्कर की रिपोर्ट
"छत्तीसगढ़ 24 न्यूज़" के लिए किरीट ठक्कर की रिपोर्टhttps://chhattisgarh-24-news.com
किरीट ठक्कर "छत्तीसगढ़ 24 न्यूज़" संवाददाता

Advertisement

ताज़ा खबरे

Video News

NEWS

error: \"छत्तीसगढ़ 24 न्यूज़\" के कंटेंट को कॉपी करना अपराध है।