जनता के सहयोग से किया कोरोना संकट का सामना – CM श्री चौहान

165 दानदाताओं के सहयोग से लगा 100 एलपीएम क्षमता का ऑक्सीजन प्लांट, ऑक्सीजन प्लांट लगाकर दानदाताओं ने लोगों को दिया जिन्दगी का आधार

“ब्यूरों रिपोर्ट-“छत्तीसगढ़-24-न्यूज़”

भोपाल- मुख्यमंत्री श्री शिवराज सिंह चौहान ने कहा कि जनता के सहयोग से हमने कोरोना संकट का सामना किया है। ऑक्सीजन आपूर्ति हो या दवाओं और इंजेक्शन की व्यवस्था, जन-सहयोग से हमने कठिनतम परिस्थितियों का सफलतापूर्वक सामना किया है। मुख्यमंत्री श्री चौहान ने प्रधानमंत्री श्री मोदी का आभार मानते हुए कहा कि ऑक्सीजन की कमी के समय उन्होंने ऑक्सीजन रेल चला कर और खाली ऑक्सीजन टैंकरों का वायु सेना के विमानों से परिवहन कराते हुए ऑक्सीजन की आपूर्ति प्रदेश में अनवरत जारी रखी। मुख्यमंत्री श्री चौहान ने कहा कि कोरोना के संकट में कई परिवारों ने अपने मुखिया को खोया है। राज्य सरकार ने ऐसे परिवारों की सहायता की हर संभव कोशिश की है। शासकीय कर्मचारियों को अनुकंपा नियुक्ति प्रदान की गई है। अनाथ हो गए बच्चों को भी आवश्यक आर्थिक सहायता के साथ उनकी पढ़ाई आदि की व्यवस्था की गई है।

मुख्यमंत्री श्री चौहान रायसेन जिले के बेगमगंज सिविल अस्पताल में जन-सहयोग से स्थापित ऑक्सीजन प्लांट का निवास से वर्चुअल लोकार्पण कर रहे थे। बेगमगंज सिविल अस्पताल में आयोजित कार्यक्रम में लोक स्वास्थ्य एवं परिवार कल्याण मंत्री डॉ. प्रभुराम चौधरी, सांसद श्री रमाकांत भार्गव, विधायक तथा पूर्व मंत्री श्री रामपाल सिंह भी उपस्थित थे।

मुख्यमंत्री श्री चौहान ने किया बेगमगंज में जन-सहयोग से स्थापित ऑक्सीजन प्लांट का वर्चुअल लोकार्पण, कहां अभी भी जरूरी है सावधानी-लापरवाही न बरतें

165 दानदाताओं के सहयोग से लगा 100 एलपीएम क्षमता का ऑक्सीजन प्लांट

रायसेन जिले के बेगमगंज के सिविल अस्पताल में स्थापित ऑक्सीजन प्लांट की क्षमता 100 एलपीएम है। इसके माध्यम से 15 बिस्तरों में ऑक्सीजन की निर्बाध आपूर्ति संभव होगी। ऑक्सीजन प्लांट की लागत लगभग 29 लाख रूपए है। इसके लिए 165 दानदाताओं द्वारा सहयोग राशि प्रदान की गई है।

प्रदेश में अब तक स्थापित हुए 163 ऑक्सीजन प्लांट

मुख्यमंत्री श्री चौहान ने बेगमगंज में जन-सहयोग से ऑक्सीजन प्लांट स्थापित करने की पहल के लिए दानदाताओं का आभार माना। मुख्यमंत्री श्री चौहान ने कहा कि दानदाताओं ने लोगों को जिंदगी देने का आधार प्रदान किया है। मुख्यमंत्री श्री चौहान ने कहा कि प्रदेश में अब तक 163 ऑक्सीजन प्लांट स्थापित किए जा चुके हैं, जिससे 182 मीट्रिक टन ऑक्सीजन उत्पादन सुनिश्चित हुआ है। अब कोरोना की तीसरी लहर आने की स्थिति में हमें ऑक्सीजन के लिए कहीं भटकना नहीं पड़ेगा।

प्रधानमंत्री श्री मोदी का मुफ्त टीका उपलब्ध कराने के लिए आभार

मुख्यमंत्री श्री चौहान ने कहा कि आपदा प्रबंधन समितियों की सक्रियता और जन-भागीदारी मॉडल के आधार पर प्रदेश कोरोना वायरस के संक्रमण पर नियंत्रण कर पाया है। हमें अभी भी निरंतर सावधानी बरतना होगी। मुख्यमंत्री श्री चौहान ने प्रधानमंत्री श्री मोदी का मुफ्त टीका उपलब्ध कराने के लिए आभार माना। मुख्यमंत्री श्री चौहान ने कहा कि यह सुनिश्चित करना आवश्यक है कि कोई भी व्यक्ति टीके से वंचित नहीं रहे। जिन लोगों ने पहला टीका लगवा लिया है, वे समय रहते दूसरा टीका अवश्य लगवाएँ। इसके साथ ही कोरोना अनुकूल व्यवहार का लगातार पालन भी आवश्यक है।

विकास और जन-कल्याण की गतिविधियाँ अनवरत जारी

मुख्यमंत्री श्री चौहान ने कहा कि कोरोना से अर्थ-व्यवस्था पर बहुत बुरा प्रभाव पड़ा है। कारखानों और व्यापार की स्थिति खराब थी। केवल कृषि से संबंधित गतिविधियाँ ही जारी थीं। इस भीषण दौर के बावजूद राज्य सरकार ने जन-कल्याण और विकास के कार्यों में कमी नहीं आने दी है। राज्य में संबल योजना पुन: आरंभ की गई है। मेधावी विद्यार्थियों की फीस जमा कराना हो या बेटियों की शादी या फिर जल जीवन मिशन में घर-घर नल से जल उपलब्ध कराना आदि विकास और जन-कल्याण की सभी गतिविधियाँ अनवरत जारी रखी गई और अभी भी जारी हैं।

Chhattisgarh24News.Com के व्हाट्सएप चैनल को फॉलो करना न भूलें 👇

 https://whatsapp.com/channel/0029Va4mCdjL7UVLuM2mkj0Q 
RELATED ARTICLES

Video News

विधानसभा चुनाव 2023

error: \"छत्तीसगढ़ 24 न्यूज़\" के कंटेंट को कॉपी करना अपराध है।